To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


>>>

बलिया : डीएम के निर्देश पर बालक और बालिका गृह का सच देखने पहुंचे ये अफसर


बलिया। जिलाधिकारी अदिति सिंह के निर्देश पर स्वैच्छिक संगठन देवराज ग्रामीण ग्रामोद्योग सेवा संस्था द्वारा संचालित बाल गृह रट्टूचक पहिया फेफना, राजकीय बालिका गृह निधरिया व खुला आश्रय गृह चन्द्रशेखरनगर का निरीक्षण डिप्टी कलेक्टर सीमा पांडेय, प्रोबेशन अधिकारी समरबहादुर सरोज व जिला कृषि प्रतिरक्षा अधिकारी प्रियनंदा ने किया। निरीक्षण के दौरान लगभग सभी व्यवस्था संतोषजनक पाई गई।

पहिया फेफना में बालक गृह संस्था में कुल 9 कर्मचारी कार्यरत हैं, जिनमें तीन अनुपस्थित मिले। संस्था में 15 बालक थे और भोजन-नास्ता की व्यवस्था सही पाई गई। शौचालय, स्नानागार, रसोई घर व बच्चों के प्रति कर्मचारियों का व्यवहार सही पाया गया। बच्चों के पुनर्वासन के लिए संस्था अधीक्षक को निर्देशित किया गया। बैड टच, गुड टच, के बारे में जानकारी दी गयी। निरीक्षण के दौरान कोविड—19 से बचाव के लिए संस्था में हैंडवाश, सैनेटाइजर उपलब्ध कराया गया। साथ ही बच्चों को शारीरिक दूरी बनाकर रहने और कोविड—19 की सावधानियों के बारे में बताया गया।

इसी प्रकार, राजकीय बालिका गृह निधरिया के निरीक्षण में निर्देश दिया गया कि महीने में दो बार अनिवार्य रूप से जिला महिला चिकित्सालय की डॉक्टर चिकित्सकीय परीक्षण करतीं रहें। संस्कार सेवा समिति द्वारा संचालित खुला आश्रय गृह, चंद्रशेखरनगर का भी निरीक्षण अधिकारियों की टीम ने किया।

Post a Comment

0 Comments