To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


>>>

बलिया : घर में अकेली युवती की बेरहमी से हत्या, 7 मई को होनी थी शादी


बांसडीह, बलिया। राधिका (19) की शादी 7 मई को तय थी। मां-बाप बेटी की शादी की तैयारी में जुटे थे। दो भाईयों एवं तीन बहनों में सबसे छोटी राधिका की दो बड़ी बहनों की शादी हो चुकी है। दोनों बड़े भाई काम धंधे में दिल्ली रह रहे है। इस बीच, घर में घुसकर राधिका की निर्मम हत्या ने हर किसी को झकझोर दी है। मां-बाप का रोते-रोते बुरा हाल है। गौरतलब हो कि बांसडीह कोतवाली क्षेत्र के कोल्डस्टोरेज के समीप स्थित कांशीराम आवास की बिल्डिंग नं. 12 की तीन मंजिला इमारत के सबसे ऊपरी तल पर कमरा नं. 144 के फर्श पर शुक्रवार को राधिका की हत्या बड़ी ही बबेरहमी से गला रेतकर हत्यारों ने कर दी। इसकी खबर मिलते ही पुलिस अधीक्षक डॉ. विपिन टाडा समेत भारी संख्या में पुलिस फोर्स पहुंच गयी। शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम में लिए भेज दिया गया। 

दिन-दहाड़े युवती की हत्या से पूरे क्षेत्र में हड़कम्प मच गया। देखते ही देखते घटना स्थल पर सैकड़ों की संख्या में लोगों की भीड़ इकठ्ठी हो गयी। इस क्रूरतम हत्या से हर कोई अचंभित था। मृतका की बड़ी मां लक्ष्मीना देवी ने बताया कि राधिका की शादी 07 मई को तय थी। सभी खुशी खुशी शादी की तैयारी में व्यस्त थे। किस दुश्मन ने यह पाप किया, पता नहीं। वहीं, पिता तुलसी राम ने बताया कि मैं सुबह ही चचेरे भाई का आंख बनवाने के लिए बलिया चला गया था। मुझे दोपहर में फोन आया कि आप जल्दी घर पहुंचे, आपकी बेटी को किसी ने मार दिया हैं। मैं भागा भागा घर आया। मेरी किसी के साथ कोई दुश्मनी नहीं थी। मृतका की मां देवंती देवी का रो रो कर बुरा हाल हो गया हैं। वह रो रो कर बस यही कहती रही कि अभी थोड़े देर पहले ही तो मैं घर से बाहर गयी थी। पिता तुलसी राम का कहना है कि मुझे एवं मेरी बेटी को न्याय चाहिए। 

घर में अकेली थी राधिका

बांसडीह कांशीराम आवास में नगर पंचायत बांसडीह के वार्ड नं एक निवासी तुलसी राम की पुत्री राधिका उर्फ निक्की (19) शुक्रवार को घर में अकेली थी। माता-पिता घर से बाहर किसी काम से निकले थे। इसी बीच, दुस्साहसी हत्यारों ने राधिका के हाथों को उसके ही दुपट्टा से पीछे के तरफ बांधकर निर्मम तरीके से गला रेतकर हत्या कर दिया। राधिका की मां जब काम कर वापस लौटी तो घर के अंदर का दृश्य देख वह बदहवास हो गयी। जोर जोर से चिल्लाकर रोने लगी। रोने की आवाज सुन आसपास के लोग पहुंचे तो सबके रोंगटे खड़े हो गए। दिन-दहाड़े गला काटकर युवती की हत्या की खबर मिलते ही कोतवाल राजेश सिंह पुलिस फोर्स के साथ घटना स्थल पर पहुंचने के साथ ही उच्चाधिकारियों को सूचना दी। कुछ देर बाद ही पुलिस अधीक्षक डा. विपिन टाडा व क्षेत्राधिकारी अशोक कुमार भारी संख्या में पुलिस फोर्स के साथ पहुंच गये। 


विजय कुमार

Post a Comment

0 Comments