To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


बलिया : 14 साल पहले शिक्षक बन गये होते मुकेश, लेकिन...


बलिया। जेल में 14 साल की सजा काटने के बाद रेवती निवासी मुकेश तिवारी निर्दोष साबित होकर घर पहुंच गये है। लेकिन सबकुछ खोकर। बेरोजगारी व बेकारी का समना कर रहे मुकेश को उम्मीद है कि सरकार उनके लिए कुछ अवश्य करेगी। 

https://youtu.be/mwQRytZ_BPk

जी हां! जिले के रेवती थाना क्षेत्र के रेवती के रहने वाले मुकेश तिवारी पर 2007 प्रेम शंकर मिश्र की हत्या का आरोप लगा। तब से मुकेश जेल में बंद थे। 14 साल बाद मुकेश उच्च न्यायालय से दोषमुक्त होकर जेल से छुट गये है। मुकेश का कहना है कि उसे फर्जी मुकदमे में फंसा दिया गया था। उसे अपने आप को निर्दोष साबित करने में जमीन तक बेचनी पड़ी। यही नहीं शिक्षक भर्ती में उसकी काउंसलिंग होने वाली थी, लेकिन इस मुकदमे कि वजह से नौकरी भी हाथ से चली गई। इन 14 सालो में महज एक बार दो महीने के लिए पेरोल मिली थी। 

Post a Comment

0 Comments