बलिया : 1207 स्कूलों ने कर दी मनमानी, एक्शन में विभाग


बलिया। सरकार की लाख कोशिशों के बाद नि:शुल्क एवं अनिवार्य शिक्षा का अधिकार अधिनियम (आरटीई) का दम कुछ अधिकारियों व निजी स्कूल प्रशासन की लापरवाही से घुंट रहा है। अगर यही हालत रही तो बहुत से बच्चें निजी स्कूल में प्रवेश से वंचित रह जायेंगे। 
बता दें कि जिले में आरटीई के तहत निजी स्कूलों में 25 प्रतिशत गरीब बच्चों के प्रवेश के लिए दो मार्च 2021 से आवेदन की प्रक्रिया चल रही है, जो 25 मार्च तक जारी रहेगी। लेकिन अफसोस, 1365 मान्यता प्राप्त स्कूलों के सापेक्ष 158 स्कूलों में प्रवेश के लिए ही अभिभावक आवेदन कर पा रहे है। इस बावत आरटीई के नोडल अधिकारी/डीसी नुरूल हुदा ने बताया कि बलिया में बेसिक शिक्षा परिषद से मान्यता प्राप्त 1365 स्कूल है। इन सभी स्कूलों को आरटीई पोर्टल पर अपना विवरण अपलोड करना था, लेकिन 158 ने ही लोड किया है। शेष 1207 स्कूलों ने इसमें दिलचस्पी नहीं ली है। इस लापरवाही को लेकर सम्बंधित स्कूलों की सूची तैयार की जा रही है। शीघ्र ही उन्हें नोटिस दी जायेगी।नोडल अधिकारी ने यह भी बताया कि इस मामले में सभी खंड शिक्षा अधिकारियों को बार-बार पत्र दिया गया, ताकि वे अपने क्षेत्र के मान्यता प्राप्त स्कूलों का विवरण आरटीई पोर्टल पर लोड करावें, लेकिन अब तक काम को गति नहीं मिली। बताया कि कोशिश है कि जल्द ही अवशेष स्कूलों का पंजीयन पोर्टल पर करा लिया जाय, ताकि दूसरे व तीसरे चरण के प्रवेश में सभी को लाभ मिल सके।

Post a Comment

0 Comments