To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


>>>

बलिया : 'प्रेरणा ज्ञानोत्सव' का भव्य आयोजन, अधिकारियों ने की यह अपील



बैरिया, बलिया। ब्लाक संसाधन केन्द्र मुरलीछपरा के प्रांगण में गुरुवार को 'प्रेरणा ज्ञानोत्सव' का भव्य आयोजन किया गया।इसमें शिक्षा क्षेत्र के सैकड़ों शिक्षकों ने भाग लिया। अधिकारियों व जनप्रतिनिधियों ने सरकार के इस 'मिशन प्रेरणा' लक्ष्य के साथ ही कायाकल्प योजना को मन से सफल बनाने पर बल दिया। पठन-पाठन में कमजोर छात्र-छात्राओं को बेहतर तालिम देने के लिए फाउंडेशन लिटरेसी एन्ड न्यूनरेशी अर्थात बुनियादी भाषा एवं गणित शिक्षण पर विशेष ध्यान दिए जाने के लिए प्ररेणा ज्ञानोत्सव के 100 दिवसीय कार्यक्रम शुरु किया गया है। 


'प्रेरणा ज्ञानोत्सव' में विशिष्ट अतिथि तहसीलदार बैरिया ने शिक्षकों से सरकार की इस योजना को सफल बनाने का आग्रह किया। एआरपी शशिकांत व विनोद यादव ने बताया कि सबसे कमजोर बच्चों को चिन्हित कर उनके ज्ञान को बढ़ाने के लिए योजनाबद्ध तरीके से आकर्षक तरीके से उन कमजोर बच्चों को शिक्षा की कड़ी से जोड़ना है। इसमें उसके अभिभावकों का भी सहयोग लेना है। साथ ही यह भी सुनिश्चित करना है कि यह लक्ष्य 2022 तक हर हाल में पूर्ण करना है। 


मुख्य अतिथि सांसद के अनुज पूर्व प्रमुख कन्हैया सिंह ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में यह योजना मिल का पत्थर साबित होगा।आवश्यकता है कि सभी शिक्षक पूरी तरह मन लगाकर इस लक्ष्य को प्राप्त करेंगे। 


सभा को परमेश्वर गिरी, शामू उपाध्याय, राजनारायण सिंह, रामप्रकाश सिंह, सुनील सिंह, शिक्षक संघ के जिला मंत्री राधेश्याम पांडेय ने संबोधित किया। खंड शिक्षाधिकारी अवधेश राय ने अतिथियों का स्वागत करते हुए सरकार के इस महत्वपूर्ण योजना को सफल बनाने में सहयोग करने की अपील किया। 



दो शिक्षक व 10 छात्र सम्मानित

'प्रेरणा ज्ञानोत्सव' में उत्कृष्ट कार्य करने वाले दो शिक्षकों को मेडल, स्मृति चिन्ह व प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। साथ ही 10 छात्र-छात्राओं को प्रेरणा लक्ष्य प्राप्त करने का प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया गया। इस अवसर पर रामाशंकर सिंह, अजय पांडेय, राजेश ओझा, भानुप्रताप दुबे, प्रदीप कुमार दूबे, नीरज सिंह, विनोद चौबे, श्रीकांत नारायण सिंह, रोहित सिंह, आनंद मौर्य सहित सैकड़ों शिक्षक मौजूद रहे। अध्यक्षता परमात्मा सिंह व संचालन अजय तिवारी ने किया।


शिवदयाल पांडेय 'मनन'

Post a Comment

0 Comments