To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


>>>

बलिया के इस गांव में शुद्ध पेयजल के लिए अभिनव प्रयोग, DM ने ऐसे जांची गुणवत्ता


दुबहर, बलिया। जलनिगम द्वारा कुंए के जल का शुद्धिकरण कर टंकी के माध्यम से लोगों को पेयजल उपलब्ध कराने के लिए जनाड़ी गांव मे अभिनव प्रयोग किया गया। कुंआ को साफ कर उसमें समरसेबल डाल कर उसके पास ऊंचाई पर टंकी लगाकर उसी के ऊपर सोलर लगा दिया गया है। जिलाधिकारी एसपी शाही ने मंगलवार को लक्ष्मण पांडेय के दरवाजे पर हुए इस कार्य का निरीक्षण किया। कहा कि कुंआ को ढ़कने के लिए जो ग्रिल लगाई गई है, उसको फॉउंडेशन बनाकर नट-बोल्ट का प्रयोग कर ऐसे लगाएं, जो सफाई की जरूरत पड़ने पर कभी भी हटाकर दोबारा लगाया जा सके। अंदर फव्वारा भी लगाएं, ताकि पानी में ऑक्सीजेशन होता रहे। उससे और अधिक शुद्ध जल मिलेगा। उन्होंने समरसेबल चलवाकर पानी पीकर उसकी गुणवत्ता परखी। जल निगम के एक्सईएन अंकुर श्रीवास्तव ने बताया कि फिलहाल चार लाख रुपये की लागत से एक हप्ते में यह कार्य किया गया है, पर अगली परियोजना साढ़े तीन लाख में ही हो जाएगी। इसमें 975 वाट का सोलर लगा है। इस अवसर वहां जुटे ग्रामीणों से जिलाधिकारी ने कहा कि प्राकृतिक चीजों का सेवन हर दृष्टि से फायदेमन्द रहा है। 

अगर यह योजना जनाड़ी में सफल हो गई तो लोगों को पीने के लिए शुद्ध जल के साथ प्राकृतिक पौष्टिक चीजें भी मिल सकेंगी। अन्य गांवों में भी यह कार्य होगा। इस मौके पर जिला पंचायत के अपर मुख्य अधिकारी रमेश सिंह, अभियंता मनोज सिंह, जल निगम के जेई सुरेंद्र यादव, प्रधान घनश्याम पाण्डेय, सचिव हिमांशु चौबे बृज किशोर पाण्डेय, परशुराम पाण्डेय आदि थे।

Post a Comment

0 Comments