To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


बलिया में भीषण हादसा : जुलूस के दौरान लगी आग, एक दर्जन झुलसे, दो रेफर


बैरिया, बलिया। संत रविदास जयंती पर बैरिया थाना क्षेत्र के भीखा छपरा गांव में शनिवार को एक दर्जन लोग तब झुलस गए, जब युवकों द्वारा जुलूस निकाला गया था। जुलूस के दौरान करतब दिखाते हुए मुंह में पेट्रोल लेकर मुंह से आग पर फूंकने की वजह से एक दर्जन लोग घायल हो गए। उन लोगों में से दो युवकों को गंम्भीरावस्था में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सोनबरसा पहुंचाया गया, जहां से चिकित्सकों ने प्राथमिक उपचार के बाद जिला अस्पताल रेफर कर दिया। 
बताया जा रहा है कि बैरिया थाना क्षेत्र के  भीखा छपरा गांव में रविदास जयंती के अवसर पर संत रविदास की प्रतिमा स्थापित की गयी थी। उस उत्सव को मनाने के लिए जुलूस निकाला था। गांव में जुलूस मार्च के समय अति उत्साह में आकर कुछ युवकों ने करतब दिखाना शुरू किया। मुंह में पेट्रोल लेकर आग पर मुंह के प्रेशर से फेकने का करतब शुरु किया। ऐसे में एका एक आग बेकाबू हो गयी। आग से खतरनाक खेल खेलने के कारण चपेट में आने से प्रेम कुमार (13) पुत्र दशरथ, सुधीर उपाध्याय (17) पुत्र छोटन उपाध्याय गंभीर रूप से जल कर झुलस गए। ग्रामीणों ने आनन-फानन में उन्हें सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सोनबरसा पहुंचाया, जहां से चिकित्सकों ने उन्हें रेफर कर दिया। वही आग की लपटों के जद में आने से सिमरन (8 वर्ष) पुत्री भोला पासवान, शिवानी (5 वर्ष) पुत्री अप्पू पासवान, संजय राम (35) पुत्र लाल बचन राम व गांव की कुछ महिलाएं भी आग की चपेट में आ गई। हल्का-फुल्का चोट लगने व आग से झुलसने वालों का इलाज स्थानीय स्तर पर हुआ। जबकि गंभीरावस्था में झुलसे सुधीर व प्रेम कुमार को जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया है। उधर गांव के लोगो का कहना है कि सन्त रविदास पूजन व जूलूस के लिए सरकारी स्तर से कोई  अनुमति भी नही ली गयी है। प्रतिमा स्थापना व जूलूस निकालने को लेकर अनुमति के सम्बन्ध मे पूछे जाने पर उपजिलाधिकारी बैरिया प्रशान्त कुमार नायक ने बताया कि मेरे कार्यालय से प्रतिमा स्थापना या जूलूस निकालने को लेकर कोई अनुमति नही दी गयी है। 


शिवदयाल पांडेय 'मनन'

Post a Comment

0 Comments