बलिया : ताउम्र कर्मचारियों की हक की लड़ाई लड़ते रहे बलवंत सिंह


बलिया। कर्मचारी संगठन के महान नेता कामरेड बलवंत सिंह की प्रथम पुण्यतिथि टाउन हॉल में मनाई गई। इसमें जिले भर के हजारों कर्मचारियों ने प्रतिभाग किया और बलवंत सिंह के चित्र पर पुष्प अर्पित कर श्रद्धाजंलि दी। इस अवसर पर जिला श्रमिक समन्वय समिति द्वारा आयोजित गोष्ठी में कर्मचारियों के हक की लड़ाई से जुड़ी उनकी तमाम कहानियों को साझा किया गया। उनके संघर्षों को याद रखने व कर्मचारियों को एकजुट होकर रहने का संकल्प दिलाया गया।
उप्र राज्य कर्मचारी महासंघ के कार्यवाहक जिलाध्यक्ष अविनाश उपाध्याय ने कहा कि जब तक वह जिंदा रहे, कर्मचारी पर हुए किसी अन्याय को बर्दाश्त नहीं किया। दमदारी से लड़ाई लड़ी और जीते भी। वहीं, अन्य वक्ताओं ने बलवंत सिंह के संघर्षों को याद करते हुए कहा कि हक की लड़ाई में बलवंत सिंह का कई बार उनका वेतन रुका, निलम्बित हुए, पर किसी भी लड़ाई को कमजोर नहीं होने दिए। विकास विभाग के कर्मचारी महेश शर्मा ने श्रद्धाजंलि में गीत प्रस्तुत किया। सपा नेता कामेश्वर सिंह, अनिल राय, जिपं सदस्य भोला सिंह, रविन्द्र सिंह, सफाईकर्मी संघ के जिलाध्यक्ष चंद्रशेखर यादव, प्राथमिक शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष जितेंद्र सिंह, पूर्व जिलाध्यक्ष सुरेंद्र सिंह, चिकित्सा महासंघ के अरुण सिंह, सचिव अनिल यादव, हिमांशु चौबे, हर्षदेव, सत्येंद्र सिंह, घनश्याम चौबे, अजय चौबे, प्रेमसुख, जमाल आलम, राजेश पांडेय ने भी अपने सम्बोधन में बलवंत सिंह के संघर्षों को याद किया। इस अवसर पर सिंचाई विभाग, पीडब्ल्यूडी, आंगनबाड़ी, चिकित्सा विभाग, विकास भवन, कलेक्ट्रेट व अन्य विभाग के हजारों कर्मी मौजूद थे। संचालन कर्मचारी नेता अजय सिंह ने किया।

Post a Comment

0 Comments