यूपी-बिहार बार्डर पर लाल बालू को लेकर हंगामा, पहुंचे एसपी डॉ. विपिन ताडा ; फिर...


बैरिया, बलिया। यूपी-बिहार सीमा पर स्थित जयप्रभा सेतु के पास उत्तर प्रदेश की सीमा में ट्रैक्टर से लाल बालू लाने पर प्रशासन द्वारा रोक लगाये जाने के विरोध में युवकों द्वारा सोमवार की रात लाल बालू का ट्रक रोक दिया गया था। ट्रैक्टर स्वामियों ने पुलिस पर आरोप लगाया कि बालू लेकर ट्रक को आने पर रोक नहीं है तो ट्रैक्टर पर लादकर बालू लाने को क्यों रोका जा रहा है। इसके चलते राष्ट्रीय राजमार्ग 31 पर ट्रकों की लंबी लाइन लग गई। इसकी जानकारी होते 
ही पुलिस अधीक्षक डॉ विपिन टाडा को हुई तो वह मौके पर पहुंच गए। ट्रकों को रोकने से सड़क पर ट्रक की लंबी लाइन लग गई थी। उत्तर प्रदेश की सीमा में ट्रक दोपहर तक प्रवेश नहीं किए थे। इस कारण बिहार के मांझी से रिविलगंज तक लगभग 8 किलोमीटर वाहनों की लंबी कतार लग गई थी, जिससे जाम की स्थिति उत्पन्न हो गई।राहगीरों को काफी परेशानी हुई। मामले को लेकर पुलिस अधीक्षक ने ट्रक रोकने वाले युवकों को मौके पर बुलाया। मामले की जानकारी ली। मौके पर मौजूद एसएचओ संजय त्रिपाठी ने प्रकरण की जानकारी लोगों से ली तो पता चला कि ट्रैक्टर स्वामी बिहार से लाल बालू लेकर आने की अनुमति चाह रहे हैं, जबकि खनन विभाग द्वारा शासनादेश का हवाला देते हुए ट्रैक्टर को रोक दिया गया है। क्योंकि ट्रैक्टर व्यापारिक कार्य के लिए वैध नहीं है। उसे कृषि कार्य की श्रेणी में रखा गया है। इस पर पुलिस अधीक्षक ने तेवर तल्ख करते हुए लोगों को बताया कि सरकार ने जो नियम बना रखा है, उसी के अनुरूप कार्य होगा। उन्होंने कानून का उल्लंघन करने वाले लोगों के खिलाफ कार्रवाई करने का निर्देश एसएचओ संजय त्रिपाठी को दिया। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि वैध कागजातों के साथ बिहार मेें खड़े ट्रकों को यूपी सीमा में लाया जाए। उनकी मौजूदगी में बालू लेकर खड़ी ट्रके यूपी सीमा में प्रवेश करने लगी। इस बाबत पुलिस अधीक्षक ने मौजूद पत्रकारों से स्पष्ट किया कि माझी जयप्रभा सेतु के निकट शीघ्र सीसीटीवी कैमरा लगाया जाएगा। यहां पर किसी को गैर कानूनी कार्य करने की अनुमति नहीं दी जाएगी। अगर कोई गैर कानूनी कार्य करते पकड़ा गया तो उसके लिए परिणाम अच्छा नहीं होगा। लगभग डेढ़ घंटे तक मौके पर उपस्थित पुलिस अधीक्षक ने सभी पक्षों से बात की और सबकी फरियाद सुनने के बाद लोगों को आश्वस्त किया कि किसी के साथ प्रशासन का कोई भेदभाव नहीं है। अगर कोई गड़बड़ी हुई तो शिकायत करने पर उसकी जांच और गम्भीर कार्रवाई होगी। लगभग 2 घंटे बाद ट्रको के उत्तर प्रदेश की सीमा में प्रवेश कर जाने के बाद जाम की स्थिति सामान्य हुई।

शिवदयाल पांडेय 'मनन'

Post a Comment

0 Comments