To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


ads booking by purvanchal24@gmail.com

जन्मदिन बना आखिरी दिन : बर्थडे सेलिब्रेट करने से पहले 3 मित्रों की दर्दनाक मौत, रो पड़ा गांव


बैरिया, बलिया। हादसा बहुत ही भयानक था। तीर्नों युवक बाइक के साथ ही गिरे पड़े थे। बर्थ-डे ब्याय का केक भी बगल में गिरा था। भीड़ काफी जुटी थी। परिजन दहाड़े मार-मार कर अपने लाडलों के शव से लिपट कर रो रहे थे। वहां, मौजूद भीड़ में शामिल लोग कभी मृत पड़े तीन दोस्तों को अपलक निहार रहे थे तो कभी बिजली विभाग को कोस रहे थे। वहीं, कुछ जुबां विधाता से सवाल कर रही थी कि आखिर तूने ऐसा क्यों किया ? हृदय को झकझोर देने वाली यह घटना बैरिया थाना क्षेत्र अंतर्गत लालझरी देवी इंटर कालेज शोभाछपरा के पास की है।
दलजीत टोला निवासी अनुज सिंह (20) पुत्र सुनील सिंह का आज (बुधवार) ही बर्थ-डे था। वह, गांव के ही अपने दोस्त सोनू गुप्ता (22) पुत्र महेन्द्र गुप्ता व छोटू सिंह (17) पुत्र भुटेली सिंह के साथ बैरिया बाजार में केक खरीदने आया था। केक खरीदकर तीनों साथी गांव लौट रहे थे, लेकिन होनी को कुछ और ही मंजूर था। तीनों साथी अभी लालझरी देवी इंटर कालेज शोभाछपरा के पास ही पहुंचे थे, तभी विद्युत तार उनकी मौत बनकर टूट पड़ा। पलक झपकते ही तीनों साथी घटनास्थल पर ही गिर पड़े। लोग पहुंचे। एम्बुलेंस को फोन किये, लेकिन एम्बुलेंस नहीं पहुंची। हादसे में मौत की सूचना पर रोते बिलखते परिवार के सदस्य और रिश्तेदार घटनास्थल पर पहुंचे।  परिजन चीखते चिल्लाते अपने 
जिगर के टुकड़ों से लिपट कर विलाप करने लगे। घटनास्थल पर मौजूद लोगों की आंखें नम हो गयी। मौजूद लोग भी रोते नजर आये। घटनास्थल पर रुदन कुन्दन मच गया। लोग बिजली विभाग को कोस रहे थे। एंबुलेंस नहीं आने को लेकर काफी नाराजगी थी। 

ग्रामीणों मे जबरदस्त आक्रोश
बार-बार फोन करने पर भी 108 नंबर की एंबुलेंस नहीं पहुंची। इससे ग्रामीणों में जबरदस्त आक्रोश दिखा। भीड़ को शान्त करने में एसएचओ संजय त्रिपाठी व तहसीलदार शिवसागर दूबे के पसीने छूट गये। किसी तरह से भीड़ शान्त हुई, किन्तु वहां से आक्रोशित भीड़ तीन किमी दूर एनएच पर पहुंच कर एनएच को जाम करनी चाही, किन्तु एक मृतक के परिजन लवकुश सिंह के समझाने पर ग्रामीणों ने एनएम जाम का निर्णय वापस ले लिया।

एसडीएम को झेलनी पड़ी नाराजगी
घटना के बाद मौके पर पहुंचे एसडीएम को ग्रामीणों का आक्रोश झेलना पड़ा। ग्रामीणों ने एनएच 31 से शोभा छ्परा घटना स्थल तक तीन किमी तक पैदल चलने पर उन्हें मजबूर कर दिया। भीड़ ने विरोध में नारेबाजी भी की। 

विधायक ने की अधिकारियों से बात
लखनऊ में विधान सभा सत्र में भाग ले रहे विधायक सुरेन्द्र सिंह ने मोबाइल से अधिकारियों व पुलिस से बात की। बिजली विभाग के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कराने का निर्देश भी दिया।

सांसद के अनुज ने दिलाया भरोसा
दिल्ली में मौजूद सांसद वीरेन्द्र सिंह मस्त के अनुज पूर्व प्रमुख कन्हैया सिंह मौके पर पहुंचे और सभी तरह की सरकारी सहायता दिलाने का आश्वासन दिया। वहीं बिजली विभाग पर एफआईआर कराने का भरोसा दिया। मौके पर समाज सेवी राधेश्याम यादव, अंगद मिश्र फौजी सहित सैकड़ो लोग मौजूद रहे।

तब शांत हुए ग्रामीण
उपजिलाधिकारी प्रशान्त कुमार नायक, सीओ बांसडीह के साथ लम्बी बातचीत के बाद तय हुआ कि बिजली विभाग पर  मामला दर्ज होने के साथ ही सभी सरकारी सहायता मुहैया कराया जायेगा। आश्वासन के बाद ग्रामीणो ने शव को पोस्टमार्टम के लिए उठने दिया।


शिवदयाल पांडेय 'मनन'

Post a Comment

1 Comments