बलिया में बेसिक परिवार की खेलकूद एवं शैक्षणिक मैत्रीय प्रतियोगिता : जिला व्यायाम शिक्षक ने की यह अपील


श्रेष्ठजन, आप अवगत हैं कि, बेसिक शिक्षा परिवार बलिया की खेलकूद एवं शैक्षणिक गतिविधियों की मैत्रीय प्रतियोगिता करना सुनिश्चित हुआ है। इस सम्बंध में आपसे अनुरोध है कि, इस प्रतियोगिता के उद्देश्यों और प्रकृति के प्रति अपना दृष्टिकोण इन तथ्यों के सापेक्ष सहृदयता से रखें तो, विश्वास करिये ये प्रतियोगिता बेसिक शिक्षा के लिए एक स्वर्णिम और अविस्मरणीय संस्मरण का सृजन करेगी। इस प्रतियोगिता का मूल उद्देश्य सम्पूर्ण बलिया बेसिक शिक्षा परिवार को एक साथ सद्भावनाओं से ओतप्रोत वातावरण में एक आंगन में आमन्त्रित और सम्मानित करना मात्र है। आप कल्पना करके पूर्वानुभव करिये कि, उस क्षण की अनुभूति आपको कितना आह्लादित करेगी, जब इस आयोजन के निमित्त सजाए गए आंगन के बीच में जहां आप खड़े होंगे, जहां आप बैठे होंगे और आपके आस पास जिस ओर आपकी दृष्टि जाए, वहां कोई आपका पुराना मित्र या अवकाश प्राप्त अभिभावक प्रतिभागी के रूप में अपनी जिन्दगी के तमाम अवसादों को विस्मृत करके हंसता हुआ दौड़ने को तैयार मिले।

कितना सुखद क्षण होगा, जब हम सीनियर जूनियर के मिथ्याबोध से मुक्त होकर, स्थाई और अस्थाई शिक्षक (शिक्षामित्र, अनुदेशक, कस्तुरबा परिवार) की मनोदशाओं से ऊपर उठकर एक सद्विचार के साथ समभाव से एक दूसरे को स्वीकार करते हुए एक साथ खेलेंगे और अपनी जीत और हार दोनों को अपने बेसिक शिक्षा परिवार के आंगन में हंसते हुए परोसेंगे। यह आयोजन एक ऐसे आंगन, ऐसे मंच और एक ऐसे अवसर को मूर्त रूप देगा, जहां ना तो कोई उच्च प्राथमिक संवर्ग का होगा ना ही प्राथमिक संवर्ग का होगा, ना तो कोई स्थायी और अस्थायी शिक्षक का कुत्सित भाव होगा, ना तो कोई शिक्षा मित्र और अनुदेशक की सीमांकन और वर्गीकरण से उद्भाषित और ना ही कोई सामान्य व्यक्तिबोध और विशेष व्यक्तिबोध का वाहक होगा।

यदि होगा तो मात्र और मात्र एक भाव, एक सोच, एक परिकल्पना, एक उद्देश्य एक परिणति और वो है 'हमारा बेसिक शिक्षा परिवार-बलिया' का सहृदयता से समागम भाव। यदि आपको मेरा उद्देश्य, मेरी सोच और मेरा प्रयास सार्थक और पवित्र लगे तो, आपसे मेरी याचना है कि, इस 'शिक्षक समागम" अवसर को आगाज से अंजाम तक पहुंचाने हेतु अपना आशीर्वाद, अपना सहयोग प्रदान करें।

विनोद कुमार सिंह
जिला व्यायाम शिक्षक
बेसिक शिक्षा परिषद, बलिया

Post a Comment

0 Comments