To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


>>>

बलिया : स्वास्थ्य अधिकारी समेत 1176 कर्मियों को लगा कोविड-19 का टीका, अब तक...


बलिया। प्रथम चरण के पांचवें दौर का टीकाकरण गुरुवार को जिले के 14 सरकारी अस्पतालों में संचालित किया गया। शाम पांच बजे तक जिले के 1176 लाभार्थियों को कोविड-19 टीका से प्रतिरक्षित किया गया। प्रतिरक्षित लाभार्थियों ( स्वास्थ्य कर्मियों )को कोविड-19 टीका की अगली डोज के लिए 4 मार्च की तारीख दी गई है। इसके लिए उनके मोबाइल पर मैसेज भी आएगा। अब तक लक्षित 9199 लाभार्थियों के सापेक्ष 5717 को टीका लगा है।
मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. राजेंद्र प्रसाद ने बताया कि जनपद में कोरोना को मात देने के लिए वैक्सीन की 11930 डोज जिले को प्राप्त हो गयी है। कहा कि भारत में विकसित कोरोना वैक्सीन पूरी तरह प्रभावी है। कोल्ड चेन के मानकों को पूर्ण करते हुये यह वैक्सीन जिले में आई है। अत्याधुनिक तकनीक से हम कोल्ड चेन बनाए हुये हैं।
सीएमओ ने बताया कि पहले डोज के बाद दूसरा डोज 28वें दिन लगेगा। टीका लगने के बाद आधे घंटे तक टीकाकरण केंद्र पर रुकना होगा। प्रतिरक्षित व्यक्ति को यदि बेचैनी या किसी भी तरह की समस्या होती है तो निकटतम स्वास्थ्य अधिकारियों, एएनएम और आशा को इसकी सूचना दें। इसके लिए एंबुलेंस सेवा 108 भी उपलब्ध रहेगी। प्रतिरक्षित व्यक्ति भी कोरोना अनुरूप व्यवहारों जैसे मास्क पहनना, हाथ की सफाई और 6 फीट की शारीरिक दूरी बनाये रखने का पालन करें। बताया कि उच्च जोखिम वाले समूहों को प्राथमिकता के आधार पर टीकाकरण के लिए चिन्हित किया गया है। जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ,. एके मिश्रा ने बताया कि कोई व्यक्ति बिना पंजीकरण के कोरोना वैक्सीन नहीं प्राप्त कर सकता है। कोरोना वैक्सीनेशन के लिए पंजीकरण के बाद ही सत्र स्थल और समय की जानकारी दी जायेगी। 

क्या कहा लाभार्थियों ने
जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ. एके मिश्रा ने कोरोना के टीका लगवाने के बाद कहा कि सबको टीका लगवाना चाहिए। यह टीका सुरक्षित है। इस टीके का कोई  साइड इफेक्ट नहीं है। प्रत्येक स्वास्थ्य कर्मी को यह टीका जल्द से जल्द लगा लेना चाहिए। सीएचसी रेवती के अधीक्षक डॉ धर्मेंद्र कुमार ने टीका लगवाने के बाद कहा कि यह टीका सबको लगा लेना चाहिए यह टीका असरदार और सुरक्षित है।

Post a Comment

0 Comments