बलिया : आकस्मिक रूट डायवर्जन का यात्रियों पर नहीं पड़ा कोई प्रभाव, क्योंकि रेलवे...


वाराणसी/बलिया। यात्री प्रधान पूर्वोत्तर रेलवे के वाराणसी मंडल द्वारा अपने यात्रियों का पूरा ख्याल रखते हुए विशेष व्यवस्थाओं के तहत उनकी ट्रेनों तथा गन्तव्य स्टेशनों तक पहुंचाया गया। अपरिहार्य कारणों से हुए आकस्मिक डायवर्जन का यात्रियों पर कोई प्रभाव न पड़े, इसको लेकर मंडल रेल प्रबंधक विजय कुमार पंजियार के निर्देशन में समुचित प्रबंधन किया गया।
ज्ञातव्य हो कि बलिया-फेफना दोहरीकरण के अंतिम चरण में नई लाइन के अन्तःपार्शन के क्रम में 29 जनवरी को तीन गाड़ियों 02503 डिब्रूगढ़-नई दिल्ली राजधानी, 01062 जयनगर-लोकमान्य तिलक टर्मिनस एवं 01034 दरभंगा-पुणे स्पेशल एक्सप्रेस को अपने नियमित मार्ग छपरा-बलिया-गाजीपुर सिटी-औड़िहार के स्थान पर परिवर्तित मार्ग छपरा-सीवान-भटनी-औड़िहार के रास्ते चलाया गया। इस दौरान गाड़ी सं 02503 डिब्रूगढ़-नई दिल्ली स्पेशल राजधानी एक्सप्रेस से बलिया उतरने वाले 65 यात्रियों को छपरा में उतारकर बस द्वारा बलिया पहुंचाया गया। इस गाड़ी में बलिया से सवार होने वाले 84 यात्रियों को बस द्वारा मऊ लाकर ट्रेन पर चढ़ाया गया। 
इसी प्रकार गाड़ी सं 01062 जयनगर-लोकमान्य तिलक टर्मिनल स्पेशल में सुरेमनपुर एवं बलिया से सवार होने वाले 96 यात्रियों को बस द्वारा मऊ पहुंचा कर ट्रेन पर चढ़ाया गया तथा इसी ट्रेन में गाजीपुर सिटी से चढ़ने वाले 40 यात्रियों को भी बस द्वारा मऊ लाकर ट्रेन पर चढ़ाया गया। इसी क्रम में गाड़ी सं 01034 दरभंगा-पुणे स्पेशल ट्रेन में बलिया एवं गाजीपुर सिटी से चढ़ने वाले यात्रियों को 02561 स्वतंत्रता सेनानी स्पेशल ट्रेन से औड़िहार लाकर 01034 पर चढ़ाया गया। 

Post a Comment

1 Comments

  1. साबरमती एक्स0 भी छपरा तकdivert है कितने यात्रियों को मऊ तक भेजा गया?

    ReplyDelete