बलिया : गुरु गोविंद सिंह के प्रकाशोत्सव पर शबद-कीर्तन से संगत को निहाल, पहुंचे एसपी


बलिया। सिख धर्म के 10वें गुरु गोविंद सिंह के प्रकाश पर्व पर गुरुद्वारा में आस्थावानों का रेला उमड़ पड़ा। गुरुग्रंथ साहिब के समक्ष मत्था टेकने के लिए श्रद्धालुओं की कतार लग रही। वहीं, प्रकाशोत्सव पर रागी जत्था प्रमुख तीरथ सिंह और उनके साथियों ने शबद-कीर्तन कर संगत को निहाल कर दिया। 'जो बोले सो निहाल सत श्री अकाल' और 'वाहे गुरु का खालसा, वाहे गुरु की फतेह' के उद्घोष से पूरे दिन वातावरण गूंजता रहा। प्रकाशोत्सव के क्रम आयोजित समापन समारोह में पुलिस अधीक्षक डॉ. विपिन ताडा ने कहा कि दुनिया में जहां भी सरदार दिखाई देते हैं, वहां भारत दिखाई देता है। उन्होंने कार्यक्रम में आमंत्रित करने के लिए गुरुद्वारा प्रबंध समिति के प्रति आभार जताया। कहा कि जहां भी आवश्यकता हो, हम और हमारी पुलिस आपकी सेवा में हमेशा साथ रहेंगे। 
गुरुद्वारा प्रबंध समिति के प्रधान देवेंद्र सिंह चावला ने उपस्थित लोगों को प्रकाश उत्सव की बधाई देते हुए बताया कि 25 जनवरी को गुरु गोविंद सिंह महाराज का हथियार उत्सव गुरुद्वारा में आयोजित किया जाएगा। दरबार साहिब में शामिल होने वाले अतिथियों को सरोपा देकर सम्मानित किया गया। गुरुद्वारे के पास विशाल लंगर का आयोजन किया गया, जहां हजारों लोगों ने प्रसाद ग्रहण किया। कार्यक्रम के सफल आयोजन के लिए गुरुद्वारा प्रबंध समिति के सेक्रेटरी सरदार स्वर्ण सिंह ने सभी के प्रति आभार व्यक्त किया। समारोह का संचालन सरदार सुरेंद्र सिंह ने किया।

Post a Comment

0 Comments