बलिया : स्कूल का निरीक्षण करने पहुंचे DM ने छात्रा को किया पुरस्कृत

 


बलिया। जिलाधिकारी एसपी शाही ने शनिवार को राजकीय महिला महाविद्यालय नगवां का औचक निरीक्षण किया। मुख्य मार्ग से काॅलेज तक जाने वाली सड़क काफी जर्जर होने पर तत्काल लोनिवि एक्सईएन को फोन कर उसे देखने और ठीक कराने के निर्देश दिए। इस दौरान महाविद्यालय में पठन-पाठन से सम्बन्धित जानकारी ली। खेल मैदान की हालत ठीक नहीं होने पर उसे ठीक कराने के लिए बीडीओ दुबहड़ को निर्देशित किया। इससे पहले प्राचार्य की ओर से बीडीओ को पत्र भिजवाने के लिए कहा।
बताया गया कि बरसात में खेल मैदान में जलजमाव हो जाता है। इस पर जिलाधिकारी ने सुझाव दिया कि खेल मैदान के एक तरफ तालाब खुदवाया जाए। वहां से निकली मिट्टी का उपयोग इस फील्ड को बराबर करने में करें। वाटर रिचार्ज सिस्टम के लिहाज से भी यह कारगर साबित होगा और जलजमाव की समस्या से भी काफी राहत मिलेगी। उन्होंने कहा कि मैदान के चारों ओर पाथ-वे बनवाने में बहुत ज्यादा खर्च नहीं आएगा, लिहाजा इसे भी करा दिया जाए।

छात्रा को किया पुरस्कृत, हुईं उत्साहित

बलिया। महिला महाविद्यालय में निरीक्षण के दौरान कॉमर्स तृतीय वर्ष की छात्रा अदिति दूबे से उन्होंने पढ़ाई से संबंधित जानकारी ली और गणतंत्र दिवस पर आधारित एक छोटा भाषण देने को कहा। छात्रा ने भी महज कम समय में शानदार भाषण की प्रस्तुति दी। इस पर जिलाधिकारी खुश हुए और सभी छात्राओं के कुछ खाने के लिए पांच सौ रुपये पुरस्कार के रूप में दिए। छात्राएं भी डीएम से इस तरह मिलकर काफी उत्साहित दिखीं।

मंगल पांडेय स्मारक की दुर्दशा पर जताई आपत्ति

जिलाधिकारी एसपी शाही ने नगवां स्थित मंगल पांडेय स्मारक की दुर्दशा पर गहरा असंतोष जाहिर किया। उन्होंने कहा कि समिति का इस पर ध्यान नहीं देना अत्यंत आपत्तिजनक है। क्षेत्रीय भ्रमण करते हुए शनिवार को वहां पहुंचे जिलाधिकारी ने जोर देकर कहा कि आजादी की लड़ाई के नायक की याद में बना यह स्मारक हमेशा मेंटेन रहना चाहिए। इसके लिए उन्होंने अपनी ओर से पहल करने की बात कही। बताया कि पहले मंगल पांडेय की मूर्ति की सफाई व पेंटिंग होगी। फिर स्मारक में जर्जर पड़ी चीजों को ठीक कराया जाएगा। 

बंधुचक में ऐतिहासिक कुंए का जीर्णोद्वार कराने के निर्देश

अमर शहीद मंगल पांडे की पीढ़ियों के बंधुचक में होने की जानकारी मिलने पर जिलाधिकारी उनके घर पहुंचे। लोगों से मिले और मंगल पांडे के व्यक्तित्व व कृतित्व पर चर्चा की। साथ ही उनकी बहादुरी भरे किस्से भी सुने। इस दौरान गांव वालों में वहीं पर स्थित एक कुंए को दिखाया और उससे जुड़ी ऐतिहासिक कहानी भी साझा किया। जिलाधिकारी ने उस कुंएं को जीवंत रखने के लिए उसका जीर्णोद्वार कराने के लिए बीडीओ को निर्देशित किया। वहीं पास में स्थित प्राथमिक पाठशाला का भी निरीक्षण किया और अध्यापकों को मोहल्ला पाठशाला को बेहतर ढ़ंग से संचालित कराने के निर्देश दिए।

Post a Comment

0 Comments