बलिया : नहीं रहे जेपी आंदोलन में अहम भूमि‌का निभाने वाले राघवेंद्र सिंह, पत्रकारों ने दी श्रद्धांजलि


बलिया। सहकारिता तथा जय प्रकाश नारायण के समाजवादी आंदोलन में अहम भूमि‌का अदा करने वाले मनियर निवासी राघवेंद्र सिंह (83) का निधन गुरुवार को हो गया। युवावस्था में अपने खास तेवरों के लिए जाने वाले राघव पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर और प्रदेश के पूर्व मंत्री ठाकुर शिवमंगल सिंह के बहुत करीबी रहें। इसके अलावा वे गन्ना मिल के मेंबर तथा मनियर स‌हकारी समिति के अध्यक्ष भी रहे। उनके निधन की खबर जैसे ही मनियर पहुंची, दरवाजे पर शोक संवेदना व्यक्त करने वालों का तांता लग गया। उनका अंतिम संस्कार सरजू नदी के परशुराम घाट के पास अन्तेष्टी स्थल पर किया गया। मुखाग्नि उनके द्वितीय पुत्र अनिल सिंह ने दी। उनके तीन पुत्र और तीन पुत्रियां है। सबसे छोटे पुत्र सुनील सिंह उर्फ गुडलक अमर उजाला बलिया के ब्यूरो प्रमुख है।  टाउन इंटर कालेज के प्रधानाचार्य अखिलेश सिन्हा, ह‌िंदुस्तान अखबार के पूर्व संपादक मनोरंजन सिंह, सुधीर ओझा, सुधीर तिवारी, अनूप हेमकर, धनंजय पांडेय, राजेश ओझा, शशिकांत ओझा, अजीत पाठक, लवकुश सिंह, श्रवण पांडेय, करुनासिन्धु सिंह, पंकज राय, अजीत ओझा, ओमकार सिंह, प्रदीप शुक्ल, अमित सोनी, गिरीश तिवारी, सतीश मेहता, अजय राय, गोपाल जी युवा, धर्मेंद्र मणिक, सभासद कंचन सिंह, संजीत कुमार इत्यादि ने गतात्मा की शांति के लिए प्रार्थना की। 

Post a Comment

0 Comments