यहां नहीं रहेंगे जनहित के मामलों की अनदेखी करने वाले अधिकारी : नीरज शेखर

बैरिया, बलिया। सांसद नीरज शेखर ने कहा कि जनहित के मामलों की अनदेखी करने वाले अधिकारी यहां नहीं रहेंगे। चाहे उसे बचाने के लिए कोई कितना भी बड़ा नेता या अधिकारी सामने क्यों न आ जाए। यह सरकार सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास के सिद्धांतों पर चल रही है।



राज्य सभा सांसद कोटवां गांव में शतचण्डी यज्ञ के समापन समारोह में शनिवार की देर शाम पहुंचे थे। वहां ग्रामीणों ने राज्य सभा सांसद नीरज शेखर से शिकायत की कि यहां के थाना, तहसील, ब्लाक या अन्य सरकारी संस्थाओं में या तो एमएलए, एमपी के पैरवी पर काम हो रहा है, या फिर रिश्वत की मोटी राशि देने पर। ऐसे किसी भी आम आदमी की फरियाद सुनने को यहां के अधिकारी तैयार नहीं है। जिनके पास रिश्वत या राजनैतिज्ञ पकड़ नहीं है। आम जन सामान्य व गरीब आदमी परेशानी लेकर पिस रहा है। ऐसा राजनीतिक व सामाजिक माहौल पहले कभी नहीं था। सांसद ने कहा कि हमारे पास लिखित शिकायत करें। मैं अधिकरियों से कल ही बात करूंगा। ऐसे अधिकारियों पर कार्रवाई तय है। इस अवसर पर संजय सिंह, अमित गिरि, सिद्धार्थ सिंह, अरविंद सिंह, पूर्व प्रधान विनोद सिंह, प्रेम शंकर सिंह, जितेंद्र सिंह, चन्द्रशेखर सिंह, रवि सिंह आदि लोग उपस्थित रहे।

शिवदयाल पांडेय 'मनन'

Post a Comment

0 Comments