बलिया : कभी सपा का ड्रीम प्रोजेक्ट था, लेकिन अब...


बैरिया, बलिया। बैरिया (द्वाबा) के लिए सपा सरकार का ड्रीम प्रोजेक्ट उप्र से बिहार को जोड़ने के लिए 325 करोड़ रुपये की लागत से शिवपुर घाट के पास गंगा पर बनने वाले सड़क पुल का कार्य कच्छप गति से होने से लोगों में जबर्दस्त आक्रोश है। लोगों का कहना है कि भाजपा सरकार जानबूझकर इस सड़क पुल को बनवाने में दिलचस्पी नहीं दिखा रही है, क्योंकि यह परियोजना सपा सरकार द्वारा स्वीकृत की गई थी। 


उल्लेखनीय है कि तत्कालीन क्षेत्रीय विधायक जयप्रकाश अंचल व दर्जा प्राप्त राज्यमंत्री पं. तारकेश्वर मिश्र की पहल पर अखिलेश यादव की सरकार ने शिवपुर घाट के पास गंगा पर पक्का पुल बनाने स्वीकृति प्रदान की थी। इसके लिए 325 करोड़ रुपये का बजट स्वीकृत किया गया, किंतु सपा सरकार के जाने के बाद इस पुल को बनाने की चर्चा थम गई। अब इस पुल को लेकर कोई भी जनप्रतिनिधि या नेता यह नहीं बता पा रहे हैं कि आखिर इस पक्के पुल का निर्माण कार्य क्यों धीरे धीरे रहा है ? इस पुल के बन जाने से बैरिया से आरा की दूरी बलिया से भी कम हो जाएगी। क्षेत्र में विकास का मार्ग प्रशस्त होगा। वहीं गंगा पार के उत्तर प्रदेश के गांव भी प्रदेश के मुख्य भू-भाग से सड़क मार्ग से जुड़ जाएंगे। यहां के लोगों की दुश्वारियां कम हो जाएगी। योगी सरकार का चार वर्ष होने को है, किंतु इस पुल का निर्माण हिचकोले खा रहा है।

शिवदयाल पांडेय 'मनन'

Post a Comment

0 Comments