बलिया : एक दिन के लिए थानेदार बनी जान्हवी सिंह ने पुलिसकर्मियों से कही ये बात


दुबहड़, बलिया। बालिकाओं में विभिन्न क्षेत्रों में जागरूकता एवं कर्तव्यबोध पैदा करने के उद्देश्य से बालिका दिवस पर रविवार को  दुबहड़ थाने पर एक दिन के लिए जान्हवी सिंह पुत्री शिवदयाल सिंह थाना प्रभारी बनी दुबहड़ निवासी जान्हवी सिंह ने थाने में आए फरियादियों की फरियाद भी सुनी। अपने बुद्धि विवेक के अनुसार मामले को आपस में सुलझाने की कोशिश की। थाना के कर्मचारीगणों से कहा कि फरियादियों के मामले का निस्तारण कानून के अनुसार निष्पक्ष एवं भेदभाव रहित करें। थाना प्रभारी अनिल चंद्र तिवारी ने कहा कि समाज में गलत परंपराओं एवं कुरीतियों के कारण महिलाओं के साथ भेदभाव किया जाता है। रूढ़िवादी विचारधारा के माता पिता एवं उनके अभिभावक महिलाओं को अपने घर का कामकाज संभालने, भाई बहनों एवं बच्चों की देखभाल करने तक ही सीमित रखते थे, जो सर्वथा अनुचित है। आजकल भारतीय महिलाएं भी विभिन्न क्षेत्रों में निरंतर प्रगति कर रही हैं। कन्याओं को अभिशाप मानने वाले रूढ़िवादी लोग यह भूल जाते हैं कि हमारे भारत में देवी दुर्गा को कन्या के रूप में पूजा जाता है। कन्या शक्ति को जागरूक एवं सशक्त बनाने के लिए समाज के प्रत्येक लोगों को बढ़-चढ़कर आगे आना होगा। इस अवसर पर क्षमा सिंह पुत्री स्व. अंजनी सिंह, पूजा सिंह पुत्री स्व. अंजनी सिंह, प्रिया कुमारी गुप्ता पुत्री लक्ष्मण गुप्ता, राधा गुप्ता पुत्री लक्ष्मण गुप्ता, शालू कुमारी गुप्ता पुत्री लल्लन गुप्ता, ललिता पाल पुत्र राम आधार (ग्राम- दलन छपरा थाना दोकटी), श्वेता पुत्री ओमप्रकाश प्रसाद ग्राम व थाना- दोकटी एवं दुबहड़ थाने के स्टाफ एवं कर्मचारी आदि मौजूद रहे।

Post a Comment

0 Comments