एक दूसरे की सहयोग करने की परम्परा विश्व में कही है तो वह है भारत : मस्त


बैरिया, बलिया। सांसद वीरेंद्र सिंह मस्त ने कहा कि एक दूसरे की सहयोग करने की परम्परा विश्व में कही है तो भारत है, जहां समाज के बहुसंख्य लोगों की भावना सहयोग की होती है। यह परम्परा पुरातन काल से ही चली आ रही है और भविष्य में भी जीवंत रहेगी। 
सोमवार को प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र मुरलीछपरा में आयोजित कार्यक्रम में सांसद ने कहा कि आशा बहु व आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों के लिए सरकार के पास सकारात्मक सोच है। इसका प्रतिफल दोनों विभागों को मिलने वाला है। उन्होंने अस्पताल के प्रभारी डाक्टर देवनीति सिंह से कहा कि मेरे गांव का अस्पताल इतनी जर्जर स्थिति में है, यह ठीक नहीं है। शीघ्र प्राकलन बनवाकर दे, जितना धन की आवश्यकता होगी, मैं उपलब्ध करा दूंगा। अस्पताल के चिकित्सकों के लिए दोकटी निवासी पूर्व प्रधानाचार्य कृष्ण कुमार पांडेय उर्फ मुन्नी पाण्डेय के पुत्र डाक्टर निश्चल पाण्डेय द्वारा उपलब्ध कराए गए पीपीई कीट व कोरोना तथा चिकित्सा से संबंधित समाग्री सांसद के हाथों से वितरित कराया गया। इस सहयोग के लिए सांसद ने डाक्टर निश्चल पाण्डेय की प्रशंसा करते हुए मौजूद लोगों में सहयोग की भावना को जागृत किया। इस मौके पर पूर्व प्रधानाचार्य कृष्ण कुमार पांडेय, भाजपा के वरिष्ठ नेता नागेंद्र पाण्डेय, समाजसेवी सुशील पाण्डेय, सुरेश सिंह, चिकित्सा अधिकारी एनके सिंह, डा. विजय यादव, एनएन शुक्ला, डाक्टर एसएन पाण्डेय, डाक्टर सुमन मिश्रा, रमेश पाण्डेय, मनोहर केशरी, डाक्टर आनंद शर्मा, डाक्टर बीना गौतम आदि मौजूद रहे। कार्यक्रम में उपस्थित लोगों के प्रति प्रभारी डॉ. देवनीति सिंह ने आभार प्रकट किया। संचालन निर्भय शुक्ला ने किया।

शिवदयाल पांडेय 'मनन'

Post a Comment

0 Comments