पंचायत चुनाव : पहले दिन बलिया की इस तहसील में आई ऐसी-ऐसी शिकायतें


बैरिया, बलिया। अधिकार मिलने पर उसका दुरुपयोग करना आम बात हो गयी है, इसका जीता-जागता उदाहरण पंचायत चुनाव की मतदाता सूची के दावे व निस्तारण के प्रथम दिन तहसील में जुटी भारी भीड़ थी। लगभग हर ग्राम पंचायत में मतदाता सूची बनाने में  अनियमितता का आरोप लगा। कहीं फर्जी नाम जोड़े गए हैं तो कहीं असल मतदाताओं के नाम ही मतदाता सूची से बाहर कर दिए गए हैं। भीड़ को देख उप जिलाधिकारी ने इस चुनाव से संबंधित दावे और आपत्ति को तहसीलदार के जिम्मे में लगाया है, जो दावा और आपत्ति जमा कराकर उसका निस्तारण एसडीएम की सलाह से करेंगे।
मामला सोमवार का है। बैरिया तहसील पर दावा और आपत्ति के पहले दिन विकासखंड मुरली छपरा, बैरिया और रेवती आंशिक विकासखंड के लगभग सभी गांव के लोगों ने मतदाता सूची में गड़बड़ी पर आपत्ति दर्ज कराई। ग्राम पंचायत इब्राहिमाबाद उपरवार में 400 से अधिक ऐसे मतदाताओं का नाम जोड़ा गया है, जो चांददियर ग्राम पंचायत के मतदाता है और वहां की मतदाता सूची में भी उनका नाम है। जगदेवा में एक ही नाम के 70 की संख्या में नाम वार्ड संख्या 7 व चार में दोनों जगह दर्ज है। कोटवा ग्राम पंचायत के बैजनाथ छपरा गांव में 200 से अधिक लोगों का नाम मतदाता सूची से गायब है। वही, फार्म जमा करने के बावजूद नए लोगों का नाम मतदाता सूची में दर्ज नहीं की गई है। कुछ जगहों पर मतदाता सूची नाम दर्ज करने का आवेदन पत्र बीएलओ द्वारा नहीं लेने, वर्तमान प्रधानों से मिलीभगत कर मतदाता सूची में गड़बड़ी करने की शिकायत भी सामने आई है। आपत्ति कर्ताओं का कहना है कुछ बीएलओ ग्राम प्रधानों के कहने में काम किए हैं तो कुछ के घर के ही चुनाव में प्रत्याशी बनने वाले हैं। ऐसे में अधिकांश बीएलओ द्वारा निर्वाचन आयोग की मंशा के विपरीत मतदाता सूची की ऐसी-तैसी कर दी गई है। इस संदर्भ में पूछने पर उप निर्वाचन अधिकारी/उप जिलाधिकारी प्रशांत कुमार नायक ने बताया की सभी गड़बड़ियों को दूर कर लिया जाएगा। यदि कोई बीएलओ जानबूझकर गलती किए हैं तो उनके खिलाफ कार्यवाही होगी। गलत लोगों का नाम मतदाता सूची से बाहर होगा और जो सही है, उनके नाम मतदाता सूची में दर्ज होंगे।

शिवदयाल पांडेय 'मनन'

Post a Comment

0 Comments