Book This Side For Ads....Purvanchal24

बलिया : SDM, BSA और DC की मौजूदगी में ECCE का प्रशिक्षण शुरू, अब बच्चों का...


बलिया। अर्ली चाइल्डहुड केयर एजुकेशन (ईसीसीई) का चार दिवसीय ब्लाक लेवल ट्रेनर (बीएलटी) प्रशिक्षण का शुभारम्भ सोमवार को एसडीएम/जिला कार्यक्रम अधिकारी सीमा पाण्डेय ने किया। उन्होंने अर्ली चाइल्डहुड केयर एजुकेशन को बच्चों के विकास के लिए जरूरी बताया। कहा कि शिशु के विकास में उसकी परवरिश तथा गतिविधियों से बहुत असर पड़ता है। बच्चे खेल-खेल में ही अधिक सीखते हैं। 


बीएसए शिवनारायण सिंह ने प्रशिक्षार्थियो को प्रशिक्षण की महत्ता को समझाया। कहा कि अर्ली चाइल्डहुड केयर एजुकेशन 3 से 6 वर्ष के आयु स्तर के बच्चो की प्राथमिक शिक्षा के लिए बेहतर है। इन बच्चों के लिए ही अर्ली चाइल्डहुड केयर एजुकेशन की शुरुआत हुई थी। बीएसए ने नौनिहालों के विकास पर अपने द्वारा किये गए निजी अनुभवों को साझा कर प्रशिक्षणार्थियों का उत्साहवर्धन किया। बताया कि बच्चे जब किसी खेल में व्यस्त होते हैं, तब वे उसमें निश्चित ही रचनात्मकता के साथ कुछ चीजें सीखते हैं। 


जिला समन्वयक (प्रशिक्षण) प्रवीण कुमार यादव ने बताया कि कई शोधों में यह सामने आया है कि बच्चों के लिए अर्ली चाइल्डहुड केयर एजुकेशन या प्री स्कूल काफी कारगर है। यह बच्चों को खेल में सीखाने के लिए होता है। इसके पाठ्यक्रम में नाटक, भाषा, सामाजिक शिक्षा, विज्ञान, गणित, संगीत कला आदि शामिल होते हैं। इससे बच्चे का मानसिक विकास होता है।धन्यवाद ज्ञापन खण्ड शिक्षा अधिकारी मोती चन्द चौरसिया व संचालन एआरपी डॉ. शशि भूषण मिश्र ने किया। 



ज़िला कार्यक्रम अधिकारी ने लिया प्रशिक्षण का जायजा

चार दिवसीय प्रशिक्षण में जनपद के सभी 18 शिक्षा क्षेत्रों से 3 सुपरवाइज एवं सहायिका तथा एक-एक एआरपी को अगले चार दिनों तक सीडीपीओ व मास्टर ट्रेनर द्वारा प्रशिक्षित किया जाएगा। नगर संसाधन केन्द्र (कन्या चौक जूहाई स्कूल चौक) पर गतिमान प्रशिक्षण में पहुंची ज़िला कार्यक्रम अधिकारी ने प्रशिक्षण की बारीकियों एवं साफ़ सफ़ाई तथा भोजन एवं जलपान की व्यवस्था का जायज़ा लिया। कार्यक्रम में एसआरजी आशुतोष कुमार सिंह तोमर, एआरपी मुमताज अहमद, राजेश मिश्र, नित्यानंद तिवारी, प्रमोद चन्द तिवारी, अंजनी गुप्ता, सुरेश आजाद, अम्वरीश तिवारी एवं आखिलेश वर्मा आदि उपस्थित रहे।



Post a Comment

0 Comments