बलिया : जहां मिला था मां-बेटी का शव, वहां पहुंचे SP डा. विपिन टाडा ; ये है वजह


बैरिया, बलिया। दोकटी थाना क्षेत्र के रामनगर गांव में बुधवार को अपनी मकान में मृत हालत में मिली मां-बेटी की लाश मामले में पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद नया मोड़ आ गया है। अब यह मामला आत्महत्या से हत्या में तब्दील हो गया है। वही, पोस्टमार्टम के बाद पुलिस अभिरक्षा में परिजनों के साथ दोनों मृतका का अंतिम संस्कार बलिया के महावीर घाट पर कर दिया गया। उसके बाद से पुलिस की शक की सुई हत्या की ओर चल रही है।


उल्लेखनीय है कि पिछले बुधवार को रामनगर गांव में स्व. बच्चा सिंह की पत्नी मीरा सिंह व उनकी विवाहिता पुत्री गुड़िया सिंह का शव उनके कमरे में मिला था। शव से काफी दुर्गंध आ रहा था। रामनगर गांव के किसी ने उनके रिश्तेदार को फोन किया था कि तुम्हारी नानी के मकान का दरवाजा खुला है। कर्णछ्परा से उनका रिश्तेदार संजीत सिंह मकान में ताला लगाने के लिए आया तो कमरे में मां बेटी का शव मिला। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद पुलिस अधीक्षक के कान खड़े हो गए है, क्योंकि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हत्या की बात सामने आई है। पुलिस अधीक्षक डा. विपिन टाडा मामले का पर्दाफाश करने के लिए पांच टीम गठित किया है। रामनगर गांव में शुक्रवार को पुलिस एक-एक व्यक्ति से मोहल्ले में  जानकारी जुटाने मे लगी रही। घटनास्थल पर पुलिस अधीक्षक ने कई चीजों को बारिकी से खंगांला। मामले की गुत्थी सुलझाने के लिए  रामनगर गांव पुलिस की छावनी में तब्दील हो गया था। पुलिस अधिक्षक के साथ क्षेत्राधिकारी बैरिया आरके त्रिपाठी, थानाध्यक्ष अमित कुमार सिंह, उपनिरीक्षक महेश कुमार के अलावा भारी संख्या में पुलिस बल रामनगर में मौजूद रहा।


पुलिस निष्पक्षता से एक-एक बिंदु पर कर रही जांच : एसपी
रामनगर में हुई मां बेटियों की हत्या के बाद मौके पर पहुंचे पुलिस अधीक्षक डा. विपिन टाडा ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट का अवलोकन करने के बाद मुझे शक है कि दोनों की हत्या हुई है। यह मामला आत्महत्या का नहीं है। पुलिस निष्पक्षता से एक-एक बिंदु पर जांच कर रही है। घटना में जो लोग सम्मिलित होंगे, उन्हें किसी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा। शीघ्र ही घटना का पर्दाफाश किया जायेगा।

शिवदयाल पांडेय 'मनन'

Post a Comment

0 Comments