बलिया : संत सुदिष्ट बाबा की समाधि पर उमड़ा आस्था का सैलाब, श्रद्धालुओं ने नवाया शीश


बैरिया, बलिया। महान संत सुदिष्ट बाबा की समाधि पर शनिवार को सुबह समाधि का पट खुलते ही मत्था टेकने के लिए श्रद्धालुओं का रेला उमड़ पड़ा। भक्तों द्वारा लगाए जा रहे हैं सुदिष्ट बाबा के जयकारे से दिशाएं गूंज उठी। सुरक्षा व्यवस्था के दृष्टिगत बैरिया, दोकटी, रेवती, हल्दी, सहतवार व दुबहड़ थाना की पुलिस टीम मेला में लगाई गई है। पूर्व के वर्षो की तुलना में बहुत कम महिला पुरुष श्रद्धालु एक दिन पहले आकर रात में इंटर कॉलेज परिसर में कल्पवास कर रात भर भजन कीर्तन किए और सुबह तैयार होकर बाबा की समाधि पर दर्शन करने पहुंचे। इसके साथ ही इलाकाई लोगों का आगमन भी शुरू हो गया। इस बार पैसेंजर ट्रेनों का परिचालन बंद होने के वजह से बांसडीह, छाता, सहतवार, रेवती तथा बिहार से आने वाले श्रद्धालु धनुष यज्ञ मेला के पहले दिन बहुत कम संख्या में ही पहुंचे, जबकि क्षेत्रीय लोगों की पर्याप्त भीड़ रही। श्रद्धालु सुदिष्ट बाबा के समाधि पर मत्था टेकने, परिक्रमा करने, हवन कुंड में हवन सामग्री डालने के साथ दीप यज्ञ में दीप जलाने के बाद संत दर्शन किए। संत दर्शन के बाद पारंपरिक दान पुण्य करके लोग मेले की ओर रूख किए। 



सर्किय रहे उचक्के
मेला में सुदिष्ट बाबा के समाधि के पास उच्चको की सक्रियता रही। टोला नेका राय निवासी अधिवक्ता पारस नाथ सिंह की पत्नी मीरा देवी का सोने का चैन जिसमे गणेश जी का लाकेट व पर्स मे रखे पैसे भी उच्चको ने उड़ा लिया। वहीं लक्ष्मण छपरा निवासी सरिता देवी, मझौवां निवासी रीना देवी, नरायणगढ़ निवासी शकुन्तला देवी सहित आधा दर्जन महिलाओ के जेवर व पैसे उच्चको ने उड़ा लिया है।

शिवदयाल पांडेय 'मनन'

Post a Comment

0 Comments