To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


>>>

बलिया : 'मम्मी पापा को कभी परेशान नहीं होने दूंगी तथा मामा-मामी को खुश नहीं रहने दूंगी'


नगरा, बलिया। बुधवार की रात एक किशोरी ने जहर खाकर अपनी जीवनलीला समाप्त कर ली। उसने एक सुसाइड नोट भी छोड़ा है, जिसमें अपने मामा-मामी व एक युवक को अपनी आत्म हत्या के लिए जिम्मेदार बताया है। सुसाइड नोट को लेकर तरह-तरह की चर्चा हो रही है। घटना नगरा थाना क्षेत्र के कोठिया गांव का है। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। वहीं, किशोरी के पिता की तहरीर पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर आरोपित को हिरासत में ले लिया है। 
9वीं कक्षा की छात्रा सुजाता का ननिहाल घोघरा गांव में है। वह वैवाहिक कार्यक्रम में भाग लेने वहां गई थी। वहां से मंगलवार को ही वह अपने गांव कोठियां पहुंची और बुधवार की रात कीटनाशक का सेवन कर लिया, जिससे उसकी मौत हो गई। किशोरी की आत्महत्या की जानकारी सुबह हुई तो परिजनों में कोहराम मच गया। परिजनों ने घटना की सूचना प्रातः काल डायल 112 सहित पुलिस को दी। पुलिस ने मृतका के शव को थाने ले आई। किशोरी के शव के पास तीन पेज का सुसाइड नोट मिला है, जिसमें उसने अपनी मौत के लिए मामा-मामी व किसी अन्य व्यक्ति को दोषी बताते हुए लिखा है कि 'मम्मी पापा को कभी परेशान नहीं होने दूंगी तथा मामा-मामी को खुश नहीं रहने दूंगी।' उसके वजह से दो-दो लड़कियां अपनी जान दे चुकी है। किशोरी की आत्म हत्या करने से परिजनों मे कोहराम मच गया है।

देवनारायण प्रजापति 'देवा भाई'

Post a Comment

0 Comments