छात्रनेता चन्द्रभानु पांडेय को याद कर नेता प्रतिपक्ष ने बलिया के छात्रनेताओं को लेकर किया यह दावा


बलिया। छात्रनेता चन्द्रभानु पांडेय की 29वीं पुण्यतिथि शनिवार को श्री मुरली मनोहर टाउन स्नातकोत्तर महाविद्यालय के जयप्रकाश नारायण सभागार में मनाई गई। श्रद्धांजलि कार्यक्रम के मुख्य अतिथि नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी ने कहा कि छात्र राजनीति सभी प्रकार की राजनीति से बेहतर है। श्री चौधरी ने जातिवाद की राजनीति पर दुख जताते हुए कहा कि छात्र राजनीति में सबसे ऊपर जनहित होता है। लेकिन आज की छात्र राजनीति में भी जाति घुस गई है। जाति की राजनीति ने अब छात्र राजनीति को भी चौपट कर दिया है। मुझे कष्ट हो रहा है कि यह पढ़े-लिखे लोगों में भी घुस गई है।

आह्वान किया कि नई पीढ़ी संघर्ष के रास्ते को अपनाए। बिना संघर्ष राजनीति को दूषित होने से नहीं बचाया जा सकता। कहा कि चन्द्रभानु पाण्डेय मेरे अत्यंत प्रिय थे। उन्होंने कभी गलत कार्य की पैरवी नहीं की। राजनीति में सुचिता के प्रबल पक्षधर थे। कहा कि मुझे याद है जयप्रकाश आंदोलन के बाद सबसे बड़ा आंदोलन स्व. चन्द्रभानु पाण्डेय के अस्थि कलश के विसर्जन के दौरान हुआ। उस वक्त समूचा जनपद एक था। लेकिन आज तक वैसा आंदोलन न जिले में हुआ और न प्रदेश में हुआ। इसीलिए आंदोलन खत्म हो रहे हैं। छात्र राजनीति के इतिहास में पहली दफा बीएचयू में छात्राओं पर लाठी चार्ज हुआ। लखनऊ विवि में भी लाठी चार्ज हुआ। यह अत्यंत खेदजनक है। 

कहा कि स्व. चन्द्रभानु पाण्डेय छात्र राजनीति में सादगी के प्रतिमूर्ति थे। उन्होंने शहादत देकर जनपद की छात्र राजनीति को नई दिशा दी थी। श्री चौधरी ने स्व. चन्द्रभानु पाण्डेय के अनुज व टीडी कालेज के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष सुशील कुमार पाण्डेय 'कान्ह जी' को कार्यक्रम के आयोजन के लिए सराहना की। संचालन अरुण सिंह व अध्यक्षता दीपक सिंह ने किया। कार्यक्रम के आयोजक व स्व. चन्द्रभानु पाण्डेय अनुज सुशील कुमार पांडेय 'कान्ह जी' ने सभी के प्रति धन्यवाद ज्ञापित किया। प्राचार्य डा. दिलीप श्रीवास्तव ने अतिथियों का स्वागत किया।

ये रहे मौजूद
इस अवसर पर पूर्व मंत्री नारद राय, सपा के जिलाध्यक्ष राजमंगल यादव, लक्षमण गुप्ता, यशपाल सिंह, राणा प्रताप सिंह, राजीव मोहन चौधरी, प्रेमप्रकाश सिंह पिंटू,
घनश्याम सिंह, राघव सिंह, जगत नारायण मिश्र, मृत्युंजय राय, यशपाल सिंह, लक्ष्मण गुप्त, साथी रामजी गुप्ता, अजय पाण्डेय, ज्ञानेंद्र राय "गुड्डू", अजय शंकर यादव, रामकृष्ण यादव, राजन कन्नौजिया, अजय यादव, छितेश्वर मिश्रा, सुनील तिवारी, हरिशंकर राय, धनंजय सिंह बिसेन, अमित दुबे, मनन दूबे, जैनेन्द्र पाण्डेय, सुनील पासवान, कमलेश तिवारी, अनूप सिंह, रामप्रताप सिंह, जितेंद्र सिंह, संतोष सिंह, जमाल आलम आदि थे।
 
मलाल है मुझे
स्व.चन्द्रभानु पांडेय की पुण्यतिथि पर कार्यक्रम में नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी ने खेद जताया कि हम सरकार में भी रहे, लेकिन स्व. चन्द्रभानु पांडेय की प्रतिमा न लग पाने का दुख है। श्री चौधरी ने वर्तमान छात्रसंघ अध्यक्ष दीपक सिंह से इस पर पहल करने की अपील की। कहा कि छात्रसंघ यह प्रस्ताव पारित करे कि हर वर्ष पांच दिसम्बर को शहीद दिवस मनाया जाए। इसमें कालेज प्रबंध समिति भी सहयोग करे। इस कॉलेज के प्राचार्य डा. प्रदीप श्रीवास्तव ने आश्वासन दिया कि अगले साल से कालेज कार्यक्रम आयोजित करेगा। 

प्रदेश भर की विस सीटों पर जीत जाएंगे बलिया के छात्रनेता
नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी शनिवार को टीडी कालेज के सभागार में शहीद छात्रनेता चन्द्रभानु पाण्डेय की पुण्यतिथि पर आयोजित कार्यक्रम में पूरी रौ में थे। भारी संख्या में छात्रनेताओं की मौजूदगी में उन्होंने जिले की गौरवशाली छात्र राजनीति की परंपरा पर प्रकाश डाला। कहा कि मैं अक्सर कहा करता हूं यदि बलिया ने इतने छात्रनेता हैं कि सभी छात्रनेताओं को प्रदेश भर की विधानसभा सीटों पर लड़ा दिया जाए तो सभी सीटें जीत जाएंगे।

दस हजार का जूता और 55 हजार का मोबाइल चाहीं
नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी ने छात्र राजनीति में आए दोषों पर दुख भी जताया। कहा कि कोई भी आंदोलन सुविधा भोगी लोगों से नहीं हो सकता। जयप्रकाश नारायण के नेतृत्व में हुए छात्र आंदोलन की ओर इशारा करते हुए बोले, हमनियो का बूढ़ा तनी जा, एक बार फिर बलिया से छात्र लोग जागस जा। आह्वान किया कि बलिया के छात्रनेता प्रदेश को दिशा दें। 

नेता प्रतिपक्ष को भेंट किया रामचरित मानस
स्व. चन्द्रभानु पाण्डेय की 29वीं पुण्यतिथि पर टीडी कालेज के जयप्रकाश नारायण सभागार में आयोजित कार्यक्रम में छात्रसंघ अध्यक्ष दीपक सिंह व महामंत्री अमित सिंह ने नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी को रामचरित मानस व पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर का तैलचित्र भेंट किया।

Post a Comment

0 Comments