>>>

बलिया में बेजुबानों के लिए पहेली बनी बीमारी, पालक परेशान


मनियर, बलिया। आए दिन मवेशियों में तरह-तरह की बीमारी होने के कारण कई मवेशी अकारण ही काल कवलित हो रही है। लगभग एक महीना पूर्व मनियर थाना क्षेत्र के रानीपुर गांव में 48 घंटे के अंतराल में नौ मवेशी मर गए थे। वहीं कई मवेशियों के शरीर में फोड़ा फुंसी हो रहा है। उसमें कीड़े पड़ जा रहे हैं। पशु पालक घाव समझ कर उसका इलाज कर रहे हैं। कुछ मवेशी गले में घरघराहट की आवाज करते हुए मर रही है। मवेशियों को स्वास्थ्य विभाग के तरफ से  बचाने के लिए किसी प्रकार का टीकाकरण नहीं कराया गया है। 

धीरे-धीरे असमय मवेशी काल कवलित होने के कारण किसानों को आर्थिक नुकसान हो रहा है। मनियर गंगापुर निवासी हरेंद्र सिंह एवं राजेंद्र सिंह के कई मवेशियों के पैर में घाव हो गए थे, जिसमें कीड़े पड़े थे। दवा इलाज उनका कराया गया तो कुछ मवेशी तो ठीक हुए, कुछ वैसे ही है। इन लोगों की एक एक बछिया गिरकर मर गई। इस संदर्भ में मनियर के पशु चिकित्सक डॉक्टर लाल बहादुर ने बताया कि पुआल में झूठा कंडूआ (लेढ़ा) रोग लगा हुआ है। इसके कारण पुआल खाने से पशुओं में रोग हो रहा है। वहीं जाड़े के मौसम में नमी ज्यादा बढ़ने के कारण फंगी (कीटाणुओं) का प्रकोप ज्यादा बढ़ जाता है। इसके कारण रोग फैल रहा है। उन्होंने पुआल को पानी में भिगोने के बाद सुखाकर एवं काटकर पशुओं को खिलाने की सलाह दी। 

वीरेन्द्र सिंह 

Post a Comment

0 Comments