>>>

बलिया : ट्रक का तिरपाल खुलते ही खुला बड़ा राज, तीन तो मर चुके थे


बलिया। एक तरफ कोरोना काल तो दूसरी तरफ हर तबके पर ख्याल रखना, पुलिस की जिम्मेदारी है। ठंड ने भी दस्तक दे दी है। ऐसे में समझा जा सकता है कि पुलिस किस तरह अपनी ड्यूटी करती है। बांसडीह कोतवाली क्षेत्र के केवरा के पास खड़ी ट्रक पर एक नहीं, 20 बैल सहित चार पशु तस्कर को पुलिस ने पकड़ लिया। तीन बैल तो मर चुके मिले हैं। 
कोतवाली प्रभारी राजेश कुमार सिंह ने बताया कि मुखबिर से सूचना मिली कि ट्रक संख्या UP44 T 9029 केवरा में खड़ी है। ये पता नहीं चल पा रहा था कि ट्रक में है क्या? मौके पर सहयोगियों के साथ पहुंचते ही तिरपाल खुलवाया गया, जिसे देखकर आश्चर्य हुआ। कोतवाल ने कहा कि क्रूरता की भी हद होती है। लोग समझ नहीं पा रहे हैं। एक समय था जब इन्ही बैलों से हम खेती कराते थे। आज भी कुछ क्षेत्रों में इन बैलों से किसान खेती कराते हैं, जिस तरीका से ट्रक पर 20 बैलों को लाद दिया गया था। ऐसे पशु तस्करों को ईश्वर भी माफ नहीं करेंगे। ट्रक के साथ चार लोगों को पशु क्रूरता अधिनियम के तहत कार्रवाई करते हुए जेल भेजा गया है। कोतवाल ने बताया कि हमारी पुलिस टीम में उपनिरीक्षक रविन्द्र राय, रविन्द्र कुमार, अजय यादव, कांस्टेबल संजय यादव, अमरनाथ आदि का सराहनीय कार्य रहा। 

ये है तस्कर
शेरू यादव पुत्र रामबली ग्राम कोंहड़ा जनपद जौनपुर, अतुल यादव पुत्र राजनाथ यादव ग्राम कोहड़ा जिला जौनपुर, अखिलेश यादव पुत्र रामबचन निवासी कोहड़ा जिला जौनपुर तथा ड्राइवर हरिश्चंद्र यादव पुत्र श्यामबिहारी ग्राम गुड़बडी जिला जौनपुर को पुलिस ने दबोचा हैं। 


Post a Comment

0 Comments