अनशनकारियों ने निकाली बलिया के इस अफसर की शवयात्रा


हल्दी, बलिया। राष्ट्रीय राज मार्ग 31 के हल्दी से क्षेत्र दर्जनों गांव को जोड़ने वाली सड़क व पुलिया के निर्माण व मरम्मत कार्य समेत पांच सूत्रीय मांगों के समर्थन में हल्दी ढाले पर आजाद भोला पाण्डेय व आनंद प्रकाश पाण्डेय द्वारा आमरण अनशन तीसरे दिन भी जारी रहा। अनशनकारियों के समर्थन में उतरे अन्य युवाओं ने शुक्रवार को पीडब्ल्यूडी अधिकारी की शव यात्रा निकाली गयी। मुर्दाबाद के नारे लगाये गये। क्षेत्र के युवा नेता छोटू उपाध्याय ने अनशनकारियों के समर्थन में खुद को आमरण अनशन करने में शामिल कर दिया।कहा कि यह मात्र दो लोग़ों की लड़ाई नहीं है। ये लड़ाई क्षेत्र की जनता की है। 


इस बीच, अनशन स्थल पर पहुंचे बैरिया विधायक सुरेंद्र सिंह ने फोन द्वारा पीडब्यूडी के उच्च अधिकारी से बात कर 17 नवंबर से काम शुरू कराने की बात की। अनशनकारियों ने बताया कि पीडब्यूडी अधिकारियों द्वारा पहले भी आश्वासन मिला था, जो झूठा साबित हुआ। इसलिए अगर 17 नवंबर तक आमरण अनशन जारी रहेगा। अगर काम शुरू नहीं हुआ तो हम आंदोलन को और तेज करेंगे। वही इंटक नेता विनोद सिंह ने मंच के माध्यम से युवाओ को समर्थन देते हुए कहा कि अगर 17 नवंबर से कार्य शुरू नहीं हुआ तो मैं भी इन युवाओं के साथ लड़ाई में भाग लूंगा। आमरण अनशन पर बैठे युवाओं का स्वास्थ्य परीक्षण CHC सोनवानी के डॉक्टरों द्वारा किया गया।जांच टीम में डॉ कन्हैया ओझा, डॉ पंकज ओझा, संदीप कुमार एलटी, राजीव कुमार गुप्ता फार्मासिस्ट, राकेश सिंह बीपीएम, दीपक कुमार श्रीवास्तव वार्ड ब्वाय रहे। इस मौके पर अनुराग ओझा, पीयूष पाण्डेय, अंकित सिंह, अनुराग ओझा, पीयूष पाण्डेय, अंकित सिंह, सोनू मिश्र, कुणाल सिंह, मोनू गुप्ता, विवेक चौबे, निर्मल सिंह, कुर्वान, अक्षय तिवारी, लक्ष्मीकांत पाण्डेय, सौरभ सिंह इत्यादि मौजूद रहे। वहीं,   हल्दी थानाध्यक्ष सत्येन्द्र राय अपने सहयोगियों के साथ मौजूद थे।

Post a Comment

0 Comments