To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


>>>

टॉप टेन अपराधी ने बलिया पुलिस पर झोका फायर, पकड़ में आते ही खोला कई राज



बलिया। नरही, नगरा पुलिस व एसओजी टीम बलिया ने मुठभेड़ के बाद TOP-10 अपराधी को गिरफ्तार कर लिया। इस पर 50 हजार का इनाम था। पुलिस टीम ने इसके कब्जे से 01 पिस्टल मय 02 जिन्दा व 02 खोखा कारतूस (0.32 बोर), नगरा थाना क्षेत्र में लूट का 50 हजार रुपया तथा सिकन्दरपुर थाना क्षेत्र में लूट का 20 हजार रुपया, 01 मोबाइल, चोरी की 01 अदद बाइक अपाची नं. UP-60 A-1149, आधार कार्ड/बैंक चेक बुक इत्यादि से भरा पिट्ठू बैग बरामद किया। 
24 नवम्बर को प्रभारी निरीक्षक नरही ज्ञानेश्वर मिश्रा मय हमराह व SOG प्रभारी उनि राजकुमार सिंह व उनि संजय सरोज मय टीम तथा प्रभारी नगरा विवेक कुमार पाण्डेय मय हमराह की संयुक्त टीम द्वारा देखभाल क्षेत्र तलाश वांछित व चेकिंग संदिग्ध वाहन/व्यक्ति व शांति सुरक्षा व्यवस्था के दृष्टिगत लक्ष्मणपुर चौराहे पर मौजूद थे। जरिये मुखबिर सूचना मिली कि बलिया का TOP-10 अपराधी, नगरा व सिकन्दरपुर में लूट कारित करने वाला लूटेरा चन्दन यादव पुत्र शिव परसन यादव (निवासी ग्राम प्रधानपुर थाना रसड़ा बलिया) फेफना बक्सर होकर बिहार जाने वाला है। इस सूचना पर विश्वास कर संयुक्त पुलिस टीम ने महरेव चितबड़ागांव तिराहे पर नाका बन्दी कर चेकिंग शुरू कर दी। कुछ समय में एक मोटर साइकिल दूर से आते दिखायी दी, जिसे टार्च की रोशनी से रूकने का इशारा किया गया, लेकिन चालक रफ्तार बढ़ाकर भागना चाहा।पुलिस टीम की गाड़ी को देखकर अचानक महरेव चितबड़ागांव मार्ग पर गाड़ी घुमाकर भागना चाहा, तभी उधर लगी पुलिस टीम में SO नगरा विवेक पाण्डेय अपनी पुलिस टीम के साथ घेराबन्दी कर दौड़ा लिए। वह व्यक्ति गाड़ी से उतरकर सड़क पर भागने लगा। फिर गाली देते हुए फायर करने लगा। NH 31 से करीब 50 मीटर जाते-जाते उसको पकड़ लिया गया। इसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस उपमहानिरीक्षक आजमगढ़ परिक्षेत्र आजमगढ़ द्वारा 50 हजार रुपये का इनाम घोषित किया गया था। 

बैग में मिला रजिस्टर
बैग में एक रजिस्टर जिसके अंदर Register for sending Account तथा 06 पेज तक कुछ व्यक्तियों का नाम पता अकाउण्ट नं. व I.D No लिखा पाया गया। उसमें अभिषेक कुमार सिंह ग्राहक सेवा केन्द्र सिसवार कला नगरा लिखा मिला। रजिस्टर के अलावा 02 ब्लैंक चेक Ac no 385227905262 SBI जिस पर अभिषेक सिंह (ABHISEK KUMAR SINGH तथा भारतीय स्टेट बैंक सिसवार कला बलिया सीएसपी का मुहर लगा 03 SBI नगरा का पासबुक क्रमशः संगीता देवी, सितारा देवी व श्रीनिवास के नाम की फोटो सहित पायी गई।बैग में 03 फार्म खाता खोलने हेतु क्रमशः विजेन्द्र राजभर, सुदामा राजभर, खुशबू चौहान का मिला, जिस पर फोटो लगा तथा सीएसपी सिसवार कला भारतीय स्टेट बैंक का मुहर भी लगा हुआ पाया गया। Customer service Point save solutions PVT. LTD. लिखा हुआ 02 फोटो कापी, जिस पर अभिषेक कुमार सिंह सिसवार कला csp code 1A74Q309 अंग्रेजी में लिखा हुआ पाया गया। उसी बैग के अंदर से उपरोक्त सामान बरामद किया गया। पकड़े गये अभियुक्त की जामातलाशी के दौरान उसके जैकेट की जेब से क्रमशः 500 की 100 नोट कुल पचास हजार रूपये जिसके ऊपर रुपया भारतीय स्टेट बैंक SAVE लिखा तथा पेन से ग्राहक सेवा केन्द्र सिसवार कला SBI रसड़ा रबड़ से लिपटा हुआ तथा पांच-पांच सौ की चालीस नोट कुल बीस हजार रूपये पाया गया। पूछताछ के दौरान बैग से बरामद कागजात व रूपयों के विषय में कड़ाई की गयी तो व्यक्ति ने बताया 01 अक्टूबर को सिकन्दरपुर में बनरहा गांव के सामने अपने साथियों के साथ मिलकर योजनाबद्ध तरीके से असलहा से डरा कर धमका कर ग्राहक सेवा केन्द्र संचालक से रूपयों से भरा बैग लूट कर भाग गए थे, जिसमें 82 हजार रूपये थे। सभी 500  500 के नोट थे। हम लोगों ने रूपयों को बराबर बराबर बांट लिया था। फिर 09नवम्बर 2020 को गोधन सिंह की मुखबिरी पर मैने तथा अपने अन्य साथियों  के साथ मिलकर रसड़ा बैंक से पैसा निकाल कर ले जा रहे ग्राहक सेवा केन्द्र संचालक अभिषेक सिंह ग्राम सिसवार कला नगरा को रसड़ा से ही पीछा कर राघोपुर में ओवरटेक करके आगे सिसवार कला लिंक मार्ग पर पहले पहुंचकर अपनी मोटर साईकिल रास्ते पर खड़ी करके बातचीत करते समय पास आते ही गोधन सिंह के इशारे पर अभिषेक सिंह की कनपटी पर पिस्टल सटाकर गोली मारने की धमकी देते हुए बैग छीन लिया। कुल दो लाख हम लोगों ने नगरा से लूटा था। पकड़े गये अभियुक्त चन्दन यादव द्वारा बताया जा रहा है कि साहब मैं विहार से गंगा घाट से भावर कोल होते हुए अपनी पत्नी से मिलने राघोपुर गया था। वही रास्ते में मैंने अपने हिस्से का रुपया रखा था। अभियुक्त चन्दन यादव के कब्जे से एक मोटर साईकिल अपाचे RTR ग्रे रंग UP 60 A 1149 चेचिस नं0 MD634KE48F2D18479 ENO 0E4DF2754427 के विषय में कागजात मांगा गया तो नहीं दिखा सका। गोरखपुर से चुराने की बात बताने लगा। 
अनावरित अभियोग
1.मु0अ0सं0 236/20 धारा 392,411 भादवि थाना नगरा जनपद बलिया।
2. मु0अ0सं0 183/20 धारा 392,411 भादवि थाना सिकन्दरपुर जनपद बलिया।

चन्दन यादव का आपराधिक इतिहास
1.मु0अ0सं0 299/15 धारा 392 भादवि थाना पकड़ी जनपद बलिया।
2.मु0अ0सं0 445/15 धारा 392/411 भादवि थाना नगरा जनपद बलिया।
3.मु0अ0सं0 592/15 धारा 392 भादवि थाना रसड़ा जनपद बलिया।
4.मु0अ0सं0 612/15 धारा 394 भादवि थाना मुहम्मदाबाद जनपद गाजीपुर।
5.मु0अ0सं0 723/15 धारा 392/411 भादवि थाना रसड़ा जनपद बलिया।
6.मु0अ0सं0 727/15 धारा 3/25 आर्म्स एक्ट थाना रसड़ा जनपद बलिया।
7.मु0अ0सं0 Nil/18 धारा 110जी सीआरपीसी थाना रसड़ा जनपद बलिया।
8.मु0अ0सं0 NIL/19 धारा 3(1) यूपी गुण्डा एक्ट थाना रसड़ा जनपद बलिया।
9.मु0अ0सं0 183/20 धारा 392/411 भादवि थाना सिकन्दरपुर जनपद बलिया।
10.मु0अ0सं0 236/20 धारा 392/411 भादवि थाना नगरा जनपद बलिया।
11.मु0अ0सं0 169/20 धारा 307/41/411 भादवि थाना नरही जनपद बलिया।
12.मु0अ0सं0 170/20 धारा 3/25 आर्म्स एक्ट थाना नरही जनपद बलिया।

गिरफ्तार करने वाले पुलिस टीम 
1.प्रभारी निरीक्षक नरही श्री ज्ञानेश्वर मिश्रा मय हमराह। 
2. उनि राज कुमार सिंह SOG प्रभारी बलिया।
3. उनि विवेक पाण्डेय थानाध्यक्ष नगरा बलिया।
4. उनि संजय कुमार सरोज SOG बलिया।
4. हेका श्याम सुन्दर सिंह यादव एसओजी बलिया।
5. आरक्षीगण सर्विलांस/एसओजीः-अनूप सिंह, अतुल सिंह, राकेश यादव, अनिल पटेल,रोहित यादव, विजय राय।
6.आरक्षीगण थाना नरही/नगराः- हे0का0 अजय कुमार त्रिपाठी, सचिन मौर्या, शशिभूषण, चन्द्रभूषण यादव, भानू कुमार पाण्डेय, विमलेश कुमार सिंह, का0चालक रामनगीना यादव।

Post a Comment

0 Comments