कार्यकर्ताओं ने लिया भाजपा प्रत्याशियों की जीत का संकल्प, शिक्षामित्रों के मुद्दे पर हुई यह बात


बैरिया, बलिया। विधान परिषद स्नातक खंड के प्रत्याशी केदारनाथ सिंह व शिक्षक विधायक प्रत्याशी चेत नारायण सिंह को पुनः विधान परिषद में भेजने के उद्देश्य से भाजपा कार्यकर्ताओं ने निर्णय लिया। बैरिया के देवराज ब्रह्म मोड़ स्थित राम नारायण सिंह विद्या मंदिर में हुई बैठक में योगी सरकार के मंत्री आनंद स्वरूप शुक्ला ने देश तथा प्रदेशहित में भाजपा के हाथों को मजबूत करने का आह्वान किया।

उन्होंने कार्यकर्ताओं से अपील किया कि  भारी बहुमत से दोनों विधान परिषद प्रत्याशियों को जीत दिलाने के लिए कमर कस लें। केदारनाथ सिंह जब से स्नातक खंड के एमएलसी हैं, युवाओं की समस्या को सदन में उठाते रहे हैं। वहीं, चेत नारायण सिंह शिक्षकों के कल्याण के लिए कृत संकल्पित रहते हैं। विधायक सुरेंद्र नाथ सिंह ने उपस्थित लोगों को भरोसा दिलाया कि पिछले चुनाव से ज्यादा मतों से यह विधान सभा क्षेत्र इस बार केदारनाथ सिंह व चेत नारायण सिंह को बहुमत दिलाएगा। यहां के मतदाता प्रबुद्ध और जागरूक हैं। यह जानते हैं कि देशहित में भाजपा जरूरी है। शिक्षक एमएलसी चेत नारायण सिंह ने शिक्षकहित में किए गए अब तक के कार्यों पर प्रकाश डाला। कहा कि आगे भी शिक्षकों के हितों की लड़ाई लड़ता रहूंगा। स्नातक एमएलसी केदारनाथ सिंह ने कहां कि मैं वाराणसी का रहने वाला हूं, लेकिन अपनी जन्म भूमि से ज्यादा बलिया के लोगों का स्नेह पाता रहा हूं। इस बार भी वह स्नेह बना रहे। कार्यक्रम को जिलाध्यक्ष जयप्रकाश साहू, छट्ठू सिंह, केपी सिंह, मुर्तजा हुसैन, सुरेश सिंह, गुप्तेश्वर पाठक, नरेंद्र कुंवर, अरुण चौबे, डॉक्टर अजय मिश्रा, विजय बहादुर सिंह, बब्बन सिंह रघुवंशी, मन्टू बिन्द समेत दर्जनों लोगों  ने संबोधित किया। अध्यक्षता मंडल अध्यक्ष रत्नेश सिंह व संचालन हरिकंचन सिंह ने किया।


शिक्षामित्रों को मिला सार्थक भरोसा

उत्तर प्रदेश प्राथमिक शिक्षामित्र शिक्षामित्र संघ के जिला प्रभारी पंकज सिंह के नेतृत्व में सैकड़ों शिक्षा मित्रों ने विधान परिषद प्रत्याशियों को ज्ञापन सौंंपकर अपनी समस्याओं के निराकरण की मांग की। कहा कि शिक्षामित्रों के लिए गठित उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा की अध्यक्षता में हाई पावर कमेटी की रिपोर्ट को सार्वजनिक कर उसे लागू किया जाय। उन्होंने मांग किया कि अल्प मानदेय पर 20 वर्षों से काम कर रहे शिक्षा मित्रों का भविष्य सुरक्षित करने की दिशा मेें कुुुुछ साार्थक काम करावें। शिक्षामित्रों की मांग पर मंत्री आनंद स्वरूप शुक्ल, एमएलसी केदार नाथ सिंह व विधायक सुरेन्द्र नाथ सिंह ने सार्थक भरोसा दिलाया। कहा कि शिक्षामित्रों के मामले में सरकार गंभीर है। 

शिवदयाल पांडेय 'मनन'

Post a Comment

0 Comments