बलिया में डबल मर्डर : सूख चुका था विस्तर पर गिरा खून


बलिया। भीमपुरा क्षेत्र के अहिरौली गांव की दलित बस्ती निवासी वीरेंद्र राम विद्युत विभाग में कार्यरत है। वाराणसी में तैनात वीरेंद्र के तीन पुत्र हैं, जो उनके साथ ही रहते हैं। पत्नी सुरजावति देवी (54) तथा विवाहित पुत्री रानी (21) गांव पर रहती थी।
शुक्रवार को मड़हे में दोनों का शव चारपाई पर रजाई के अंदर मिला। सूचना पर पहुंची पुलिस ने मां-बेटी के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। इस बीच पुलिस अधीक्षक देवेंद्र नाथ व ASP संजय यादव भी पहुंच गये। अधिकारियों ने मातहतों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिया।शुक्रवार की अपराह्न वीरेंद्र राम के घर के पास से गुजर रही एक महिला ने दोनों को चारपाई पर लेटा देख आसपास के लोगों को जानकारी दी। लोग पहुंचे तो बिस्तर पर मां-बेटी की लाश देख दंग रह गये। उनके सिर पर किसी हथियार से प्रहार किया गया था। दोनों के बिस्तर पर बहा खून सूख चुका था। भीमपुरा एसएचओ की सूचना पर आसपास के थानों के साथ ही CO रसड़ा व फारेंसिक टीम पहुंच गई। जांच पड़ताल कर पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया। पुलिस अधीक्षक देवेंद्र नाथ ने कहा कि घटना की जांच की जा रही है। पुलिस शीघ्र ही मामले का खुलासा कर देगी। 

Post a Comment

0 Comments