बलिया : पूर्व प्रधान डा. अजीजुद्दीन ने ताउम्र लड़ी गरीबों के हक की लड़ाई

 


सिकंदरपुर, बलिया। छठवीं पुण्य तिथि पर आयोजित सर्वदलीय श्रद्वांजलि सभा में वक्ताओं ने न सिर्फ आदर्श गांव सिवानकलां के पूर्व प्रधान डा. अजीजुद्दीन साहब को श्रद्वांजलि दी, बल्कि उनके कृतित्व व व्यक्तित्व पर प्रकाश भी डाला। इस दौरान सैकड़ों जरूरतमंदों में कंबल वितरित किया गया। श्रद्धांजलि सभा बतौर मुख्य अतिथि पूर्व सांसद व सपा के राष्ट्रीय महासचिव रामाशंकर राजभर ने कहा कि डा. अजीजुद्दीन साहब धुन के पक्के थे। विकासपरक सोच उनके रग-रग में रचा-वसा था।

गरीबों के हक के लिए बड़ी से बड़ी ताकत से टकराने में भी संकोच नहीं करते थे। वे ताउम्र गरीबों के हक की लड़ाई लड़ते रहे।सिवानकलां को आदर्श गांव बनाया। विशिष्ट अतिथि पूर्व मंत्री नारद राय ने कहा कि पूर्व प्रधान डा. अजीजुद्दीन आज दुनिया में नहीं है, लेकिन वे आज भी गांव के रग-रग में रसे बसे हैं। जिलाध्यक्ष राजमंगल यादव ने कहा कि जरूरत है, उनके दिखाए रास्ते पर चलने की। 

श्रद्धांजलि सभा को पूर्व मंत्री जियाउद्दीन रिजवी, पूर्व विधायक छोटे लाल राजभर, अरविंद सहाय, मिठाई लाल भारती, जिला पंचायत अध्यक्ष सुधीर पासवान, सोमेंद्र कुमार राय, मुन्नीलाल यादव, जमाल आलम, डॉ मदन राय, अनन्त मिश्रा, रामजी यादव, देवनरायन यादव, चन्द्रमा यादव ने भी सम्बोधित किया। अध्यक्षता राम बहादुर वर्मा व संचालन दिग्विजय सिंह ने किया। आभार व्यक्त डा. अजीजुद्दीन के पुत्र तारिक अजीज ने किया।

संतोष शर्मा

Post a Comment

0 Comments