फुटप्लेट निरीक्षण कर पूर्वोत्तर एवं पूर्व मध्य रेलवे महाप्रबंधक ने परखी संरक्षा और गति


वाराणसी। पूर्वोत्तर एवं पूर्व मध्य रेलवे के महाप्रबंधक ललित चंद्र त्रिवेदी ने गुरुवार को पटना-गोल्डेनगंज-छपरा का फुटप्लेट निरीक्षण कर संरक्षा और गति को परखा। इस दौरान उन्होंने वाराणसी मंडल के छपरा ग्रामीण-छपरा जं रेल खण्ड का भी गहन निरीक्षण किया। 

महाप्रबंधक, पटना से सेल्फ प्रोपेल्ड निरीक्षण यान से छपरा जं 11:30 पहुंचे और छपरा जं. रेलवे स्टेशन का व्यापक निरीक्षण किया। इस अवसर पर उनके साथ मंडल रेल प्रबंधक विजय कुमार पंजियार, प्रमुख मुख्य यांत्रिक इंजीनियर एके पाण्डेय, वरिष्ठ मंडल इंजीनियर 2,  एमके सिंह, वरिष्ठ मंडल सिगनल एवं दूरसंचार इंजीनियर त्रयंबक तिवारी, वरिष्ठ मंडल यांत्रिक इंजीनियर (O&F) अलोक केशरवानी, वरिष्ठ मंडल यांत्रिक इंजीनियर (C&W) सत्यप्रकाश श्रीवास्तव, वरिष्ठ मंडल विद्युत इंजीनियर (कर्षण) पंकज केशरवानी समेत वरिष्ठ पर्यवेक्षक एवं छपरा के अधिकारी उपस्थित थे।

महाप्रबंधक एलसी त्रिवेदी ने छपरा जं स्टेशन के सर्कुलेटिंग एरिया, रनिंग रूम, स्वचालित सीढियों समेत पैदल उपरिगामी पुल का निरीक्षण किया और पुल पर से छपरा यार्ड रिमॉडलिंग, कनेक्टिंग लाइनों, सेकेण्ड एंट्री, आई लैंड प्लेटफार्म, होम प्लेटफार्म तथा पैदल उपरिगामी पुल के विस्तारीकरण योजना पर  चर्चा की। उनकी प्रगति कार्यो की समीक्षा की। इसके पश्चात महाप्रबन्धक प्लेटफार्म के बाहर गार्ड एवं ड्राइवर क्रू लाबी, गार्ड एवं लोको पायलट रनिंग रूम का गहन निरीक्षण किया। उसके साफ-सफाई एवं रख-रखाव की व्यवस्था पुख्ता करने का निर्देश दिया। उन्होंने छपरा  स्टेशन के दूसरे छोर पर निर्माणाधीन सेकेण्ड इंट्री के वर्क ले आउट का अध्ययन किया और लम्बित कार्यों में तेजी लाने एवं पूरी गुणवत्ता के साथ शीघ्र पूर्ण करने का निर्देश दिया।

इसके उपरांत महाप्रबंधक ने  छपरा कोचिंग डिपो का व्यापक निरीक्षण किया और कोचिंग डिपो के तकनीकी विकास हेतु कार्य योजना बनाने तथा नई तकनीकी के उपकरणों के स्थापना करने का निर्देश दिया। उन्होंने कोचिंग डिपो की कार्यप्रणाली की समीक्षा की और परित्यक्त स्क्रैप के डिस्पोजल का निर्देश दिया।   इस दौरान कोचिंग डिपो कार्यालय में नवनिर्मित डाटा एनालाईसिस सेन्टर का उद्घाटन कोचिंग डिपो अधिकारी हरिशंकर से कराया। इसके साथ ही कोचिंग डिपो परिसर में नवविकसित उद्यान का उद्घाटन स्टेशन अधीक्षक विनय कुमार के हाथों कराया, जिसमें महाप्रबंधक एवं मंडल रेल प्रबंधक ने स्वयं पौधरोपण कर पर्यावरण संरक्षण में अपनी सहभागिता दर्ज करायी। महाप्रबंधक ने  फ़ूड प्लाज़ा, अनारक्षित टिकट काउंटर, सर्कुलेटिंग एरिया, स्टेशन मास्टर कार्यालय, कंप्यूटरिकृत यात्री आरक्षण केंद्र, अनारक्षित टिकट काउंटर एवं साधारण यात्री हाल का निरीक्षण किया और युटीएस काउंटर एवं साधारण यात्री हाल में सावधानी बरतने एवं कोविड-19 नियमों के कड़ाई पालन करने का निर्देश दिया।

उन्होंने एक औपचारिक वार्ता में बताया कि छपरा ग्रामीण एवं खैरा के बीच नवनिर्मित बाई पास लाइन बन जाने से माल यातयात में सुविधा हुई है। पूर्वोत्तर रेलवे पर माल ढुलाई के माध्यम से आय दुगना करने का प्रयास सफल हो रहा है। पूर्वोत्तर रेलवे पर सभी स्टेशनों पर कोविड-19 प्रोटोकाल नियमों का पालन सुनिश्चित किया जा रहा है।

Post a Comment

0 Comments