5 दिन बाद बलिया की 452 ग्राम पंचायतों को मिलेगा सामुदायिक शौचालय और पंचायत भवन



बलिया। सामुदायिक शौचालय एवं पंचायत भवन के गुणवत्तापूर्ण निर्माण के उद्देश्य से गंगा बहुउद्देश्यीय सभागार में दो दिवसीय कार्यशाला की शुरुआत बुधवार को हुई। इसमें समस्त प्रधान, पंचायत सचिव व ग्राम स्तरीय कर्मचारियों को खास तौर पर यह सलाह दी गई कि बचे कार्यकाल में पंचायत भवन व सामुदायिक शौचालय आंगनबाड़ी भवन आदि को बेहतर बना दें।

कार्यशाला का शुभारंभ जिलाधिकारी श्रीहरि प्रताप शाही व सीडीओ विपिन जैन ने दीप प्रज्वलित कर किया। जिलाधिकारी ने कहा कि गांव के विकास में ग्राम प्रधान और पंचायत सचिव समेत ग्राम स्तरीय कर्मचारियों का सबसे अहम योगदान होता है। बीते कार्यकाल में क्या हुआ, इसको पीछे छोड़ते हुए बचे हुए कार्यकाल को बेहद उपयोगी बनाने का संकल्प सभी लें। यह समय सबके लिए बेहद महत्वपूर्ण है। इसमें अपने गांव में बेहतर से बेहतर पंचायत भवन और सामुदायिक शौचालय बनवाएं, ताकि लोग उसे याद रख सकें। कहा कि अच्छे कार्य करने वाले प्रधान को सम्मानित भी किया जाएगा। 

उन्होंने बताया कि 19 अक्टूबर को पहले से लक्षित 452 ग्राम पंचायत में सामुदायिक शौचालय और पंचायत भवन का शिलान्यास या लोकार्पण मुख्यमंत्री जी द्वारा होना है। इसमें क्षेत्र के सम्मानित जनप्रतिनिधियों को आमंत्रित किया जाएगा। यह अब तक का सबसे बड़ा लोकार्पण या शिलान्यास वाला प्रोजेक्ट होगा, जिसकी कार्यकारी संस्था ग्राम पंचायत होगी। प्रधान व सचिव द्वारा इसका निर्माण कराया जाएगा।उन्होंने बताया कि ग्राम पंचायतों में प्राप्त स्कूलों को भी कायाकल्प के जरिए सुसज्जित करना है। बहुत कम समय में इतने बेहतरीन कार्यशाला आयोजित करने के लिए उन्होंने सीडीओ को धन्यवाद भी दिया।

कार्यशाला को संबोधित करते हुए सीडीओ श्री जैन ने कहा कि हर ग्राम पंचायत में ऐसा गुणवत्तापूर्ण और सुंदर पंचायत भवन और सामुदायिक शौचालय बनवाया जाए कि  बलिया का पूरे प्रदेश में लिया जाए। उन्होंने सभी प्रधान, सचिव, रोजगार सेवक से ईमानदारी व निष्ठा के साथ ऐसा सुनिश्चित कराने की अपेक्षा की। कार्यशाला में डीपीआरओ शशिकांत पांडेय, स्वच्छता सलाहकार शैलेश ओझा, इसरार अहमद, समस्त बीडीओ, सभी प्रधान, सचिव, एडीओ पंचायत, ब्लॉक के एपीओ ने प्रतिभाग किया।

Post a Comment

0 Comments