बलिया : मां की तरह गाय का अंतिम संस्कार, तेरही पर होगा भंडारा



बैरिया, बलिया। लागातार 28 वर्षो तक दूध देने वाली गाय की मौत के बाद पालक ने धूमधाम से बैण्ड बाजा के साथ गाय का जल प्रवाह किया। विद्वान पण्डितों की सलाह से श्राद्ध संस्कार भी आयोजित किया है। 
मामला बैरिया थाना क्षेत्र के टोला नेका राय का है। गांव निवासी विगन सिंह 1992 में एक गंगातिरी गाय खरीदकर लाये, जो सितम्बर 2020 तक लागातार दूध देती रही।06 अक्टूबर 2020 को गाय की मौत हो गयी। गृह स्वामी बिगन सिंह व परिवार के अन्य लोग सैकड़ो ग्रामीण के साथ बैण्ड बाजे के साथ  धार्मिक पूजा पाठ व वैदिक मंत्रोच्चार के बीच गाय का जल प्रवाह कर दिया। बिगन सिंह का कहना है कि यह गाय हमारी माता की तरह थी, जिसने हमारे परिवार के भरण पोषण के साथ मुझे आर्थिक समृद्धि प्रदान की है। इसलिए मां की तरह ही इसका श्राद्ध संस्कार किया जायेगा। 18 अक्टूबर को अन्तिम श्राद्घ के दिन विशाल भण्डारा किया जायेगा। गाय की अन्त्येष्टि क्षेत्र में चर्चा का विषय बनी है।
शिवदयाल पांडेय 'मनन'

Post a Comment

0 Comments