बलिया पुलिस की रडार पर सड़क जाम करने वाले, सवा सौ पर मुकदमा


नगरा, बलिया। सड़क जाम कर यातायात प्रभावित करने तथा महामारी नियमों की धज्जियां उड़ाने में 100 अज्ञात व 15 नामजद लोगों के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत कर पुलिस ने वैधानिक कार्रवाई शुरू कर दी है। इससे क्षेत्र में हड़कंप मच गया है।

गौरतलब हो कि सिकंदरपुर मार्ग पर पकड़ी थाना क्षेत्र के डकिनगंज के पास 19 अक्टूबर की सायं ट्रक की चपेट में आने से पकड़ी थाना क्षेत्र निवासी बाइक सवार रामाकांत राजभर, किसुनदेव राजभर तथा रामाश्रय राजभर की मौत हो गयी थी। घटना से नाराज ग्रामीणों ने नगरा थाना क्षेत्र के डिहवां चट्टी पर मंगलवार की सुबह चक्काजाम कर दिया था। ग्रामीण मुआवजे की मांग कर रहे थे। करीब तीन घण्टे तक आवागमन बाधित रहा। मामले में थाना प्रभारी यादवेन्द्र पाण्डेय ने प्राथमिकी दर्ज कराई है। 

आरोप है कि रामजी यादव व अखिलेश यादव (निवासी- नगरा), संदीप यादव उर्फ सोनू (निवासी जुड़नपुर), शिवजी व संजीत (निवासी- छित्तुपाली), शिऊ गुप्ता, रामाश्रय व अवधेश (निवासी-गजियापुर), राजेश यादव (निवासी-भिटकुना), राकेश सिंह (निवासी-डिहवां), रजनीश राजभर, वृजेश राजभर, निवास, मुन्नी व हरेराम (निवासी ओड़सरा) समेत सैकड़ों लोग लाठी डण्डा, लेकर सड़क जाम किये हुए थे। पुलिस प्रशासन के खिलाफ नारा लगा रहे हैं। समझाने पर गाली गलौज धक्का मुक्की करने लगे। सड़क जाम कर आवागमन सहित आपात सेवाएं प्रभावित कर दिए। क्षेत्राधिकारी व उपजिलाधिकारी आदि उच्चाधिकारियों के आने पर जाम समाप्त हुआ। तीन घण्टे सड़क जाम कर आवागमन अवरुद्ध कर दिया गया। भीड़ लगाकर कोरोना जैसे भयंकर महामारी के संकट से आम जनजीवन प्रभावित हुआ। उपरोक्त सभी तथ्यों को संज्ञान में लेकर सुसंगत धाराओं में मुकदमा पंजीकृत कर लिया गया है।


देवनारायण प्रजापति 'देवा भाई'

Post a Comment

0 Comments