संक्रमण से बचाव का अच्छा तरीका हाथ धुलाई : डॉ. आशुतोष कुमार सिंह



रसड़ा, बलिया। बाबा रामदल सूरजदेव स्मारक पीजी कालेज पकवाइनार, रसड़ा मेंं गुरुवार को विश्व हाथ धुलाई दिवस पर बेविनार का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में छात्र-छात्राओं ने बढ़ चढ़ कर हिस्सा लिया। इस दौरान छात्र-छात्राओं को हाथों की सफाई के लिए शपथ दिलाई गयी।
महाविद्यालय के प्राचार्य डाॅ. आशुतोष कुमार सिंह ने कहा कि साफ सफाई ही बीमारी से लड़ने का पहला हथियार होती है। बीमारियों के संक्रमण से बचने के लिए सबसे अच्छा तरीका हाथ धुलाई से शुरू होता है। अधिक मौतें साफ सफाई न होने से ही होती है।विशेषज्ञों के अनुसार स्वच्छ हाथ ही हमारे स्वास्थ्य और सुरक्षित जीवन की कुन्जी है। सफाई नहीं होने पर संक्रमण का खतरा हमेशा बना रहता है। कुछ लोग शौच के बाद हाथ को मिट्टी से धोते हैं, जो गलत है। हाथ को साबुन या हैंडवाश से धोना चाहिए।  महाविद्यालय के प्रबंध निदेशक शिवेन्द्र बहादुर सिंह ने कहा कि आज पूरा भारत सहित विश्व कोरोना जैसे महामारी से जूझ रहा है, जिससे बचावके लिए हाथों की सफाई और चेहरे पर मास्क लगाना जरूरी है।बेविनार में महाविद्यालय के प्राचार्य डाॅ. आशुतोष कुमार सिंह, डाॅ. अब्दुल रब, सिद्दीकी, आनंद विक्रम सिंह, संतोष कुमार, प्रमोद कुमार, श्रीमती प्रियंका सिंह, प्रियंका यादव, अवनीश मिश्रा आदि ने संबोधित किया।

शिवानंद बागले

Post a Comment

0 Comments