दुर्जनपुर कांड : मृतक के परिजनों को सपा ने सौंपा 3.30 लाख, सुभासपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष भी पहुंचे


रेवती, बलिया। दुर्जनपुर कांड में मृतक जयप्रकाश उर्फ गामा पाल के परिजनों से उनके आवास पर भेंटकर शुक्रवार को सपा के शिष्ट मंडल ने 3 लाख 30 हजार का सहायतार्थ राशि का चेक व नगद मृतक की पत्नी धर्मशीला देवी को दिया। सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव द्वारा पार्टी की तरफ से भेजे गये दो लाख का चेक शिष्ट मंडल के सदस्यों द्वारा दिया गया। पूर्व मंत्री दयाराम पाल द्वारा एक लाख नगद, पूर्व विधायक जय प्रकाश अंचल द्वारा 25 हजार नगद तथा पूर्व चेयरमैन लक्ष्मण गुप्ता द्वारा 5 हजार रूपये नगद मृतक की पत्नी धर्मशीला देवी को दी गई।सपा जिलाध्यक्ष राजमंगल यादव ने मृतक के परिजनों से कहा कि समाजवादी पार्टी का हर एक कार्यकर्ता आपके साथ है। भविष्य में भी रहेगा।पूर्व विधायक सनातन पांडेय, पूर्व विधायक संग्राम यादव, पूर्व विधायक सुभाष यादव, सपा जिला महासचिव राजन कनौजिया, विश्राम यादव, राज प्रताप यादव, संजय यादव, जय प्रकाश यादव मुन्ना जी, पुनीता सोनी, राज कुमार पाण्डेय, साथी राम जी गुप्ता, रंजीत चौधरी, रामेश्वर पासवान, रविन्द्र यादव, श्यामू ठाकुर, अरविंद तिवारी, प्रधान कृष्णा यादव, एसएस तिवारी, संतोष भाई, राजेश गोंड, मुन्ना गोंड, जय प्रकाश गुप्ता, शशि भूषण यादव, अजय यादव, अखिलेश यादव, राज कुमार रजक आदि रहे। 



उधर, दुर्जनपुर पहुंचे सुभासपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर दोनों पक्ष के परिजनों से मिले। घटना में मृत जयप्रकाश उर्फ गामा पाल के परिजनों से मिलने के बाद सुभासपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष घटना के मुख्य आरोपी धीरेन्द्र प्रताप सिंह की मां कांति सिंह से मिले। कहा कि दोनों पक्ष दहशत में है।इसलिए इस प्रकरण की सीबीआई जांच होनी चाहिए, ताकि सच्चाई सामने आ सके और सबको न्याय मिल सके। उन्होंने कहा कि इस घटना में मौके पर मौजूद अधिकारी व कर्मचारी भी दोषी है, जो इस घटना को रोक न सके। प्रदेश में इस समय जंगल राज कायम है। अपराधी सरेआम घूम रहे है। आये दिन प्रदेश में हत्या, बलात्कार की घटनाएं हो रही है। सुभासपा के प्रदेश उपाध्यक्ष पुनीत पाठक, प्रवक्ता सुनील सिंह, सुग्रीव राजभर, माइकल राजभर, लालजी नागवंशी, सोनू राजभर, सुनील राजभर, बिलू राजभर, जनार्दन राजभर, सुनील सिंह, सतीश गुप्ता आदि रहे।


पुष्पेंद्र तिवारी 'सिन्धु'

Post a Comment

0 Comments