71 हजार सैम्पलिंग में 4072 पॉजिटिव, अब बलिया डीएम ने की यह अपील


बलिया। जिलाधिकारी श्रीहरि प्रताप शाही ने एक बार फिर लोगों से अपील की है कि कांटेक्ट ट्रेसिंग व सर्वे टीम का सहयोग करें, उन्हें सही-सही जानकारी दें। ऐसा करके कोरोना के प्रसार पर आसानी से अंकुश लगा सकते हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना मरीजों की मृत्यु का आंकड़ा चिंताजनक जरूर है, लेकिन अगर लोग किसी लक्षण को छुपाए नहीं, मेडिकल टीम को समय से सही-सही जानकारी दें तो निश्चित रूप से यह आंकड़ा कम हो सकता है। डोर-टू-डोर सर्वे को जाने वाली टीम का सहयोग नहीं करना और सही लक्षण नहीं बताना, घातक होगा। बताया कि सैंपलिंग के मुकाबले पॉजिटिव केस की संख्या में कमी आई है। फिलहाल कांटेक्ट ट्रेसिंग से संपर्क में आए लोगों के अलावा जिनमें कोई लक्षण हैं या जो गंभीर बीमारी से ग्रस्त हैं, उनकी जांच प्राथमिकता पर कराई जा रही है। 

कोरोना पर कंट्रोल, शहर व रसड़ा में आई भारी कमी

डीएम श्री शाही ने बताया कि अब तक 71 हजार से ऊपर सैम्पलिंग कराई गई, जिनमें 4072 पॉजिटिव केस मिले। इसमें 434 एक्टिव केस हैं और 53 मौत हुई है। जिले का रिकवरी रेट 88 प्रतिशत है। बलिया शहर में सबसे ज्यादा एक्टिव केस कभी 500 से ज्यादा था, अब 77 रह गया है। इसी प्रकार रसड़ा में दो सौ से ज्यादा केस था जो अब 29 है। कुल मिलाकर 26 जुलाई तक 7152 सैम्पल में 1273 केस आए, जबकि 26 जुलाई के बाद इसके कई गुना ज्यादा सैम्पल गए और 2799 केस मिले। इस प्रकार सैंपलिंग के मुकाबले पॉजिटिव केस में आई कमी देखना राहत भरा है। निश्चित रूप से कांटेक्ट बस लोग सावधानी बरतें तो संख्या में भारी कमी आ जाएगी।

Post a Comment

0 Comments