DM साहब ! छ्ह माह से इस PHC पर लटका है ताला, कुछ कीजिए


बैरिया, बलिया। बेहतर स्वास्थ्य सेवा उपलब्ध कराने के लिए सरकार अपने को संकल्पित बता रही है। ऐसे में नवीन प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र कर्णछपरा पर छह महीने से ताला लटका है। यहां कोई भी चिकित्सक, चिकित्साकर्मी, चौकीदार व स्वीपर उक्त स्वस्थ्य केंद्र में दिखाई नहीं देते। गेट पर ताला बंद है।
पूर्व सांसद भरत सिंह जब बैरिया के विधायक थे, तब करोड़ों की लागत से उक्त स्वास्थ्य केंद्र बना था। शुरू में तो यहां संविदा के चिकित्सक, फार्मासिस्ट व चौकीदार की पोस्टिंग थी। अस्पताल समय से खुलता था। आसपास के सैकड़ों मरीज चिकित्सा सुविधा प्राप्त करने के लिए अस्पताल में आते थे, किंतु अप्रैल महीने से इस अस्पताल में चिकित्सक की बात तो दूर सफाईकर्मियों का आना भी बन्द हो गया। अस्पताल का मुख्य गेट भी बन्द कर दिया गया है। इस अस्पताल के बन्द हो जाने से कर्ण छपरा, सुकरौली, घतुरी टोला, श्रीपति पुर, डोमन टोला, प्रीतम छपरा, मठ योगेंद्र गिरी, इब्राहिमाबाद सहित दर्जनभर गांवों को भारी असुविधा का सामना करना पड़ रहा है। कर्ण छपरा के प्रधान संजय सिंह, पवन सिंह, रमेश सिंह सहित दर्जनों ग्रामीणों ने इस तरफ जिलाधिकारी का ध्यान अपेक्षित करते हुए तत्काल अस्पताल खुलवाने का आग्रह किया है।


शिवदयाल पांडेय 'मनन'

Post a Comment

0 Comments