बलिया : सपा यूथ फ्रंटलों ने इन ज्वलंत मुद्दों पर राज्यपाल को भेजा ज्ञापन


बलिया। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के निर्देश पर सपा के चारों यूथ फ्रंटल के अध्यक्षों ने सोमवार को महामहिम राज्यपाल को सम्बोधित ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंपा। इसमें बेहाल किसान, महंगी शिक्षा, बेरोजगारी, निजीकरण में व्याप्त भ्रष्टाचार एवं नष्ट होते रोजगार,  यूपी बीएड प्रवेश परीक्षा में दलित छात्रों के नि:शुल्क प्रवेश पर रोक, महंगाई व बढ़ती बेरोजगारी को लेकर आवाज बुलंद की गयी है।
समाजवादी युवजन सभा के प्रदेश अध्यक्ष अरविंद गिरी ने कहा कि पीएम मोदी जी निजीकरण द्वारा अपने उद्योगपति मित्रों के हाथों देश को बेच रहे हैं। इससे आने वाले समय में युवाओं के सामने बहुत बड़े रोजगार का संकट खड़ा हो जाएगा। बताया कि निजीकरण से केवल बड़े पूंजीपतियों का भला होगा। भाजपा सरकार नेतृत्व विहीन, दिशा विहीन तथा मुद्दा विहीन राजनीति कर रही है।यह सरकार प्रत्येक मोर्चे पर विफल हो चुकी है। आए दिन प्रदेश में हत्या, लूट, बलात्कार जैसे अनेकों जघन्य अपराध  हो रहे है। लेकिन प्रदेश की सरकार मूकदर्शक बनी हैं। 
समाजवादी युवजन सभा के जिलाध्यक्ष प्रभुनाथ यादव ने कहा कि प्रदेश की जनता उम्मीद भरी निगाहों से सपा की तरफ देख रही है। सपा के युवा नेता रंजीत चौधरी ने कहा कि समाजवाद पार्टी सभी जाति, धर्म, मजहब की बात करती है। लेकिन वर्तमान की तानाशाही सरकार सिर्फ और सिर्फ हिंदू, मुसलमान, मंदिर, मस्जिद और जुमलेबाजी वाली बातें करती है। इस मौके पर श्रीकांत गिरी मुन्ना, अभय सिंह, अनिकेत साहनी, चन्दन ओझा, शशांक तिवारी, रोहित चौबे, आदर्श मिश्र, मनन दुबे, सौरभ यादव, शशांक तिवारी, धन जी यादव, अमित राय आदि रहे। संचालन लोहिया वाहिनी के जिलाध्यक्ष आशुतोष ओझा ने किया।

Post a Comment

0 Comments