बलिया : ग्रामीणों ने BDO समेत तीन अधिकारियों को बनाया बंधक


मनियर, बलिया। स्वयं सहायता समूह को सार्वजनिक वितरण प्रणाली की दुकानें आवंटित करना अधिकारियों के गले की फांस बनता जा रहा है। अक्सर गांव में असंतोष व बवाल की स्थिति उत्पन्न हो जा रही है। विकास खंड मनियर के BDO रमेश कुमार यादव, एडीओ पंचायत वकील यादव व ग्राम पंचायत सचिव दीपचंद सोनकर को दुकान आवंटन के दौरान ग्राम पंचायत रिगवन के ग्रामीणों ने बंधक बना लिया। सूचना पर पहुंचे थानाध्यक्ष मनियर नागेश उपाध्याय की मौजूदगी में दुकान आवंटन की प्रक्रिया निरस्त करने के आश्वासन पर ग्रामीणों ने खंड विकास अधिकारी व अन्य को मुक्त किया।
बताते चले कि विकास खंड मनियर में तीन कोटे की दुकान निरस्त हुई है, जिसमें 04 सितम्बर 2020 को धसका का आबंटन था। 07 सितम्बर 2020 को रिगवन था, जबकि 09 सितम्बर 2020 को मानिकपुर में है। दुकान आवंटन के लिए पहुंचे अधिकारियों पर ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि ग्राम प्रधान की मिलीभगत से खंड विकास अधिकारी व अन्य जातिवाद कर रहे थे। दुकान आवंटन में धांधली की जा रही थी।  
वही, खंड विकास अधिकारी रमेश कुमार यादव का कहना है कि शासन का निर्देश है कि निरस्त सार्वजनिक वितरण प्रणाली की दुकानों को स्वयं सहायता समूह को ही आवंटित करना है। किसी भी कोटेदार को दुकान आवंटित नहीं किया जाएगा। जिस स्वयं सहायता समूह की सक्रिय सदस्यों की संख्या अधिक होगी, उनको पहले वरीयता प्रदान की जानी है। वहीं यदि गांव में दो स्वयं सहायता समूह है और दोनों स्वयं सहायता समूह के सक्रिय सदस्यों की संख्या बराबर है तो उस समूह को वरीयता दी जाएगी जो तुलनात्मक रूप से आर्थिक लाभ की स्थिति में होगी। इस मामले में खंड विकास अधिकारी ने कहा कि फिलहाल दुकान आवंटन की प्रक्रिया रिगवन ग्राम सभा में अग्रिम आदेश तक निरस्त कर दी गई है। पुनः आवंटन के आदेश आने पर सूचना देकर स्वयं सहायता समूह को दुकान आवंटित की जाएगी।


वीरेन्द्र सिंह

Post a Comment

0 Comments