बलिया में बोले अनिल सिंह - संगठित होंगे, तभी बनेगी हमारी पहचान


मनियर, बलिया। संगठन में शक्ति होती है। हमारी आवाज तभी सुनी जाएगी, जब हम संगठित होंगे। आज के परिवेश में परिस्थितियां बदल रही हैं। हमारे संगठन न होने के कारण अन्य समाज व राजनीतिक पार्टियां हमारी उपेक्षा कर रही है। जब हम संगठित होंगे, तभी हमारी पहचान बनेगी। हम बैठकर क्षत्रिय समाज की समस्याओं को हल करने का प्रयास करेंगे। उक्त बातें क्षत्रिय महासभा भारत एवं विश्व के राष्ट्रीय वरिष्ठ महामंत्री व एक्स इंस्पेक्टर अनिल सिंह ने पंदह ब्लाक के खड़सरा में तीर्थ राज सिंह के आवास पर क्षत्रिय समाज की परिचायक बैठक में कहीं। 
श्री सिंह ने कहा कि क्षत्रिय समाज संगठित न होने के कारण आज अपने आप को ठगा महसूस कर रहा है। विभिन्न राजनीतिक पार्टियां हमसे वोट लेकर सत्ता में आई, लेकिन इस समाज को कुछ नहीं दिया। इस समाज का युवा वर्ग पढ़े लिखे होने के बाद भी दर दर की ठोकरें खाने पर मजबूर है। 80 नंबर पाने वाला बेकार है, 40 अंक पाने वाला मौज कर रहा है। अगर हमारे समाज के लोग संगठित हो जाए तो यह दिन नहीं देखने पड़ेंगे। क्षत्रिय महासभा के सह मीडिया प्रभारी बलिया वीरेंद्र सिंह ने युवाओं में जोश भरते हुए कहा कि आप लोग इस संगठन को बढ़ाने में बढ़-चढ़कर हिस्सा लें। बैठक को प्रदेश सचिव आनंद प्रकाश सिंह, जिला सचिव वीरेंद्र सिंह, ओंकार सिंह, विशाल सिंह, योगेंद्र सिंह, त्रिवेणी सिंह, दिलीप सिंह, अनिल कुमार सिंह, अखिलेश सिंह, धनंजय सिंह, अंकित सिंह, कन्हैया सिंह, प्रेम सिंह, विजय विक्रम सिंह, मनीष सिंह, राणा प्रताप सिंह, संदीप सिंह सहित आदि लोगों ने अपना विचार रखा। अध्यक्षता तीर्थ राज सिंह एवं अभय सिंह ने किया।


वीरेन्द्र सिंह 

Post a Comment

0 Comments