शुभ घड़ी : 12 बजकर 15 मिनट, विश्वभर में अनूठा होगा प्रभु श्रीराम का यह दिव्य मंदिर


अयोध्या। भूमि पूजन का उल्लास अयोध्या के कण-कण में नजर आ रहा है। राम की नगरी में इतिहास रचे जाने में अब कुछ ही घंटों का ही समय बचा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राम मंदिर के लिए भूमि पूजन करेंगे। वही, भूमि पूजन से पहले राम मंदिर का डिजाइन व लुक सामने आ गया है। कई गुंबदों से सुशोभित तीन तल का यह दिव्य मंदिर विश्वभर में अनूठा होगा।



1989 में प्रस्तावित मंदिर के मॉडल में बदलाव कर इसे और भव्य बना दिया गया है। पहले मंदिर के मुख्य शिखर की ऊंचाई 128 फीट थी, जो अब 161 फीट होगी। तीन की जगह पांचों गुंबदों के नीचे के हिस्से में चार हिस्से होंगे और एक मुख्य शिखर होगा। राम मंदिर के भू-तल में सिंहद्वार, गर्भगृह, नृत्यद्वार, रंगमंडप बनेगा। इसके अलावा मंदिर में 212 खंभे होंगे। इसमें से पहली मंजिल में 106 खंभे और दूसरी मंजिल में 106 खंभे बनाए जाएंगे। प्रत्येक खंभे में 16 मूर्तियां होंगी और मंदिर में दो चबूतरे भी होंगे।

भूमिपूजन की तैयारियां पूरी हो चुकी हैं।आयोजन को देखते हुए पूरे नगर को हाई अलर्ट पर रखा गया है। प्रधानमंत्री बुधवार को रामनगरी में दो घंटे 50 मिनट तक प्रवास करेंगे। उनका हेलीकॉप्टर पूर्वाह्न 11:30 बजे साकेत महाविद्यालय परिसर में बने हेलीपैड पर उतरेगा। प्रधानमंत्री पहले से तय 12:15 बजे पवित्र अभिजित मुहूर्त में आधारशिला रखेंगे। इसमें नौ ईंटों का प्रयोग किया जाएगा, जो चार दिशाओं, चार कोणों और स्थान देवता की परिचायक होंगी। इससे पूर्व करीब 10 मिनट तक प्रधानमंत्री रामजन्मभूमि, स्थान-वास्तु सहित आधारशिला में प्रयुक्त होने वाली ईंटों का पूजन करेंगे।




Post a Comment

0 Comments