क्या होगा नफा-नुकसान, जानें बलिया के खेल विशेषज्ञों की जुबानी

वीर लोरिक स्पोर्ट स्टेडियम बलिया

बलिया। वैसे तो खेल और खिलाड़ियों के उत्थान को 36 साल पहले ही जिला खेल प्रोत्साहन समिति अस्तित्व में आ गई थी, लेकिन इसका कर्तव्य फाइलों में ही सिमटा रहा। इसके बारे में खिलाड़ियों को कौन कहें, खेल संघों को भी पता नहीं चल पाता था। इधर, प्रदेश की योगी सरकार ने उक्त समिति का नाम बदलकर जिला खेल विकास एवं प्रोत्साहन समिति कर दिया है, जिसका पुनर्गठन DM की अध्यक्षता में किया जा चुका है। समिति अध्यक्ष जिलाधिकारी श्रीहरि प्रताप शाही व सचिव क्रीड़ाधिकारी डा. अतुल सिन्हा है। इनके अलावा ख्यातिलब्ध खिलाड़ी, पदाधिकारी के साथ ही विधायक संजय यादव को बतौर विशेष आमंत्रित सदस्य समिति में शामिल किया गया है। इस नई समिति में शामिल खिलाड़ी, व्यायाम शिक्षक व खेल संघ के दो पदाधिकारियों से Purvanchal24 ने बात की, जिसका अंश कुछ यूं है...


इंजी. अरूण सिंह
समिति अच्छी बनी है। उम्मीद है अच्छी तरह संचालित भी होगी। इस नई समिति का तार तहसीलों से भी जुड़ेगा, लिहाजा गांव स्तर के खिलाड़ियों को इसका लाभ मिलेगा। यदि अफसर एक्टिव रहे तो कल को बेहतर होने से कोई नहीं रोक सकता।
इंजी. अरूण सिंह, खेल संघों के प्रतिनिधि


विनोद सिंह
योजना चाहे जितनी भी सुंदर हों, उसका लाभ तभी मिल सकता है जब उसको धरातल पर क्रियान्वित किया जाय। समिति की अच्छाई यह है कि इसमें खेल की नर्सरी पर ध्यान केन्द्रित है। इसमें BSA, जिला व्यायाम शिक्षक व DIOS को भी उत्तरदायित्व बनाया गया है।
विनोद सिंह, जिला व्यायाम शिक्षक



नीरज राय
नाम ही नहीं, समिति की पूरी कार्य प्रणाली ही बदल गई है। पहले आय का जरिया नहीं था, लेकिन अब आय का बड़ा श्रोत बन गया है। इस आय से न सिर्फ खेल, बल्कि खिलाड़ियों को उत्थान में बड़ी मदद होगी। खिलाड़ियों की जरूरतें भी समिति अब पूरा कर सकेगी।
नीरज राय, राष्ट्रीय खिलाड़ी


मिथिलेश श्रीवास्तव
नाम परिवर्तन करने की क्या आवश्यकता थी, काम बेहतर होना चाहिए। नई समिति में दो जिला व्यायाम शिक्षक को शामिल किया गया है, जबकि अन्य जनपदों में एक है। बैठक में गतिशील संघों को भी नहीं बुलाया गया। 
मिथिलेश श्रीवास्तव, खेल संघों के प्रतिनिधि


नीतू सिंह
पहली बार बतौर जिला व्यायाम शिक्षिका समिति में शामिल हूं। अच्छा लग रहा है। कुछ बेहतर करने की सोच है। वरिष्ठ पदाधिकारियों के दिशा-निर्देशन में खेल और खिलाड़ियों की बेहतरी के लिए काम करूंगी, ताकि बलिया के खिलाड़ी खेल की विधा को समझ सकें।
नीतू सिंह, जिला व्यायाम शिक्षिका


प्रीति गुप्ता
जिला खेल विकास एवं प्रोत्साहन समिति में मुझे बतौर नेशनल खिलाड़ी शामिल किया गया है। कोशिश करूंगी कि नवोदित खिलाड़ियों को लक्ष्यपूर्ण विधा में प्रशिक्षकों के अलावा मैं भी ट्रेंड करूं, ताकि वे जनपद का नाम खेल जगत के शिखर तक रोशन करें। 
प्रीति गुप्ता, अवार्डी खिलाड़ी







Post a Comment

0 Comments