Book This Side For Ads....Purvanchal24

CBSE का फैसला : 10वीं में नहीं होने के बाद भी 11वीं में ले सकते हैं Math


नई दिल्ली। CBSE के उन छात्रों के लिए राहतभरी खबर है, जिनके 10वीं में स्टैंटर्ड मैथ्स नहीं था और वे 11वीं में मैथ्स विषय लेना चाह रहे थे। CBSE ने उनकी चाहत पूरी करने का ऐलान कर दिया है। वे छात्र 11वीं में गणित का विकल्प चुन सकते हैं। हालांकि CBSE ने यह भी कहा है कि यह छूट सिर्फ इस साल के लिए है। यही नहीं, CBSE ने स्कूल प्रमुखों को निर्देश दिए हैं कि, वह इसकी जांच कर लें कि 11वीं में मैथ्स का विकल्प चुनने वाले छात्र-छात्राओं के भीतर उसे आगे बढ़ाने की योग्यता हो। बता दें कि CBSE ने यह फैसला कोविड-19 संक्रमण के प्रभाव की वजह से लिया है।

ये था नियम

CBSE की गाइडलाइन के मुताबिक, जिन छात्र-छात्राओं को 11वीं और 12वीं में मैथ्स  लेना होता है, उन्हें 10वीं में स्टैंटर्ड गणित को पढ़ना होता है। इसके साथ ही जो परीक्षार्थी हॉयर स्टडीज में गणित नहीं पढ़ना चाहते हैं, वे बेसिक मैथ्स पढ़ते हैं। यह नियम साल 2019 में जारी किया गया था। इससे इतर 10वीं के बाद यदि छात्र का मूड बदलता है और वह 11वीं में मैथ्स चुनना चाहता है तो वह 10वीं में कंपार्टमेंट परीक्षा देकर 11वीं में गणित का विषय चुन सकता था। लेकिन इस बार CBSE ने बड़ी राहत दी है। 

Post a Comment

0 Comments