27 साल प्रमुख रहे बलिया के इस Leader ने बताई भ्रष्टाचार की जड़


मनियर, बलिया। ब्लाक प्रमुख एवं जिला पंचायत अध्यक्ष पद का चुनाव आम जनता करे तो निश्चित ही भ्रष्टाचार पर लगाम लगेगा। यही नहीं, इससे स्वच्छ छवि के व्यक्ति इन सम्मानित पदों पर चुने जायेंगे। धनबल और बाहुबल का प्रभाव थमेगा। यह बात कोई और नहीं, बल्कि 27 वर्ष तक मनियर के ब्लॉक प्रमुख रहे वयोवृद्ध कांग्रेसी नेता निर्भीक नारायण सिंह उर्फ मानिक जी ने कही है। 

शनिवार को मनियर स्थित अपने आवास पर पत्रकार वार्ता के दौरान निर्भीक नारायण सिंह उर्फ मानिक जी ने भ्रष्टाचार पर अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त की। कहा कि पहला भ्रष्टाचार तो यही है कि इन दोनों पदों को हासिल करने के लिए प्रत्याशी धनबल, बाहुबल का प्रयोग करते हैं। फिर जब इन पदों को हासिल कर लेते हैं तो जो खर्च चुनाव में किए रहते हैं, वह एन केन प्रकारेण उसे प्राप्त करने की कोशिश करते हैं। दूसरा बहुत बड़ा भ्रष्टाचार नगर पंचायत, नगर पालिका एवं नगर निगम में भी है। इसमें जिले के अधिकारी तक संलिप्त है। उदाहरण स्वरूप मनियर नगर पंचायत में भ्रष्टाचार का मामला जब उच्च अधिकारियों के संज्ञान में था तो उसकी जांच क्यों नहीं की गयी, जिसके लिए मनियर नगर पंचायत की ईओ मणि मंजरी राय को आत्महत्या करना पड़ा। उन्होंने कहा कि मनियर दियारे सहित जिले के अन्य क्षेत्रों में अवैध रूप से कच्ची दारू की भट्ठियां संचालित हो रही है। इस व्यवसाय में लगे लोगों को पुलिस का भरपूर संरक्षण मिल रहा है, जिससे समाज में अराजकता बढ़ रही है। हालांकि उन्होंने योगी एवं मोदी दोनों की इमानदारी की तारीफ की, लेकिन इस मामले में पुलिस विभाग पर उनका नियंत्रण नहीं है।


वीरेन्द्र सिंह

Post a Comment

0 Comments