PCS OFFICER मणिमंजरी राय केस : व्यापार मंडल ने उठाई यह मांग


बांसडीह, बलिया। PCS अधिकारी मणि मंजरी राय आत्महत्या मामले में अखिल भारतीय उद्योग व्यापार मण्डल के प्रदेश उपाध्यक्ष अरिवंद गांधी ने कहा कि दोषी को जल्द सजा मिले, लेकिन किसी निर्दोष को इस मामले में न फंसाया जाय। अगर प्रशासन इस प्रकरण में किसी निर्दोष को फंसाया एवं जांच से पहले किसी की गिरफ्तारी हुई तो सभी व्यापारी आंदोलन के लिए बाध्य होंगे।

मनियर ईओ की आत्महत्या मामले में बांसडीह स्थित व्यापारी नेता विजय कुमार गुल्लर के निवास पर शुक्रवार को आयोजित प्रेसवार्ता में प्रदेश उपाध्यक्ष अरिवंद गांधी ने कहा कि PCS अधिकारी मणिमंजरी राय केस में मनियर चेयरमैन एवं अन्य को राजनीतिक साजिश के तहत फंसाया जा रहा है। इस केस में बैरिया के नायब तहसीलदार की भूमिका संदिग्ध नजर आ रही है। मांग किया कि बैरिया के नायब तहसीलदार रजत सिंह की नार्को टेस्ट कराया जाय। पत्रकारों के एक सवाल के जबाब में कहा कि मनियर नगर पंचायत में घोटाले के आरोप की जांच प्रसाशन जरूर करें, लेकिन आत्महत्या मामले में किसी को अनावश्यक न फंसाया जाय।

इस प्रकरण में बांसडीह व्यापार मण्डल अध्य्क्ष विजय कुमार गुल्लर ने शासन से मांग किया कि इस प्रकरण की जांच सीबीआई से करायी जाय। जिससे किसी निर्दोष को सजा न मिले और दोषी सजा से न बचने पाए। उन्होंने मणि मंजरी राय के सुसाइड नोट पर कहा कि उन्होंने किसी का नाम लिए बगैर सोची समझी रणनीति एवं छलावा जैसे शब्द का प्रयोग किया है, जो निश्चित ही प्रकरण में दूसरी तरफ इशारा करता है। मनियर के पूर्व चेयरमैन प्रदीप गुप्ता ने कहा कि प्रशासन द्वारा मणि मंजरी एवं रजत सिंह के काल डिटेल्स को सार्वजनिक कर मामले को सभी एंगिल से जांच किया जाय, ताकि कोई निर्दोष न फसे। प्रेसवार्ता में मनियर नगर पंचायत के वार्ड नं 4 के सभासद प्रतिनिधि कृष्णा प्रसाद व अन्य व्यापारी उपस्थित रहे।

Post a Comment

0 Comments