बात-बात में घोंट दिया था साथी का गला, बलिया पुलिस ने चार को दबोचा


नरही, बलिया। नरही थाना क्षेत्र अंतर्गत शहाबुद्दीनपुर गांव में शनिवार को धान के खेत में मिले हरिकेश पुत्र संजय विंद के शव के मामले में पुलिस ने चार अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया है। अपर पुलिस अधीक्षक व क्षेत्राधिकारी के नेतृत्व में नरही पुलिस ने शिवाशंकर बिंद, संजय बिंद, रणजीत बिंद पुत्र हरिनारायण बिंद व सत्य सील बिंद पुत्र शिवाशंकर बिंद (निवासी: शहाबुद्दीनपुर) को सोमवार की सुबह दौलतपुर कथरिया तिराहे से दबोच लिया। मृतक की पोस्टमार्टम में उसकी मौत का कारण गला दबाकर होना पाया गया है। 

पूछताछ के दौरान पकड़े गए अभियुक्त शिवाशंकर बिंद ने बताया कि मैं और हरिकेश बिंद जो मंदबुद्धि का था, खाना खाकर गांव के बाहर एक मंदिर पर सोने के लिए चले जाते थे। बीते मंगलवार की शाम दोनों ने नशा का सेवन किया। किसी बात को लेकर तू तू मैं मैं होने पर क्रोध में उसके गला को जोर से दबा दिया, जिससे उसकी मौत हो गई। डर से लाश को अपने मकई के खेत में छिपा दिया। अगले दिन घटना के संबंध में अपने परिजनों को जानकारी देने पर परिजनों के साथ मिलकर लाश को 200 मीटर दूर खेत में ले जाकर फेंक दिया।

बोले अफसर

नरही एसएचओ ज्ञानेश्वर मिश्र ने बताया कि अभियुक्तों ने अपना जुर्म स्वीकार किया है। मकई के खेत से एक चिलम वह माचिस जमीन के अंदर से बरामद किया गया। मृतक हरिकेश के पिता ने पूछताछ के दौरान बताया कि लड़का मंदबुद्धि का था। और नशे का सेवन भी करता था। वह अक्सर घर से चार-पांच दिन तक इधर-उधर घूमता रहता था मंगलवार को गया तो हम लोगों ने सोचा कि लौट कर आ जाएगा। इसीलिए थाने में कोई रिपोर्ट नहीं लिखवाई गई। पकड़े गए अभियुक्तों के विरुद्ध विधिक कार्यवाही की जा रही है।

Post a Comment

0 Comments